Geography class 10 NCERT NOTES ( भूगोल कक्षा -10 ) All Chapter Subjective Question Answer in Hindi, सामाजिक विज्ञान (हमारी अर्थव्यवस्था) पाठ - 5 रोजगार एवं सेवाएं SUBJECTIVE QUESTION, रोजगार एवं सेवाएं लघु उत्तरीय प्रश्न उत्तर और दीर्घ उत्तरीय प्रश्न उत्तर, रोजगार एवं सेवाएं दीर्घ उत्तरीय प्रश्न उत्तर, Samajik Vigyan class 10th Rojagaar evan Sevaen subjective question answer 2023, सामाजिक विज्ञान कक्षा 10 रोजगार एवं सेवाएं लघु उत्तरीय प्रश्न, class 10th Social science question answer 2023 PDF download in Hindi,  सामाजिक विज्ञान का मॉडल पेपर 2023, class 10th Rojagaar evan Sevaen Subjective question answer 2023, Class 10th Social science Geography Subjective Question Bihar Board Matric Exam 2023, BSEB Class 10th सामाजिक विज्ञान (अर्थशास्त्र ) रोजगार एवं सेवाएं Subjective Question 2023, रोजगार एवं सेवाएं का महत्वपूर्ण सब्जेक्टिव क्वेश्चन, class 10th Social science Geography ka Subjective, Class 10th Social science model paper and question bank 2023, Pragatishil Classes, Class 10th Social science Rojagaar evan Sevaen Subjective Question Answer, सामाजिक विज्ञान कक्षा 10 रोजगार एवं सेवाएं सब्जेक्टिव प्रश्न उत्तर 2023, class 10th रोजगार एवं सेवाएं ka Subjective question answer 2023, कक्षा 10 रोजगार एवं सेवाएं का सब्जेक्टिव क्वेश्चन आंसर, class 10th geography subjective question paper 2023 
Class 10th Social Science Subjective Question

सामाजिक विज्ञान कक्षा 10 रोजगार एवं सेवाएं सब्जेक्टिव प्रश्न उत्तर 2023 | Class 10th Social Science (Economocs) Rojagaar evan Sevaen Subjective Question Answer 2023

दोस्तों मैट्रिक परीक्षा 2023 का तैयारी करना चाहते है तो यहाँ पर (Social Science) सामाजिक विज्ञान का क्वेश्चन आंसर दिया गया है जिसमें अर्थशास्त्र (Economics) का रोजगार एवं सेवाएं का सब्जेक्टिव क्वेश्चन आंसर ( Rojagaar evan Sevaen ka Ithaas Subjective Question Answer ) दिया गया है तथा सामाजिक विज्ञान का मॉडल पेपर ( Social Science Model Paper 2023 ) भी दिया गया है और आपको सोशल साइंस का ऑब्जेक्टिव क्वेश्चन आंसर रोजगार एवं सेवाएं ऑब्जेक्टिव क्वेश्चन आंसर ( Rojagaar evan Sevaen Objective Question Answer ) आपको इस वेबसाइट पर आसानी से मिल जाएगा।

Join Telegram
  • Class 10 Social Science All Chapter VVI Guess Question Paper 2023
S.N Social Science (सामाजिक विज्ञान) 📒
1. History (इतिहास) Guess Paper
2. Geography (भूगोल) Guess Paper
3. Economics (अर्थ-शास्त्र) Guess Paper
4. Political Science (राजनितिक विज्ञानं) Guess Paper
5. Disaster Management (आपदा प्रबंधन) Guess Paper

BSEB Class 10th सामाजिक विज्ञान (अर्थशास्त्र ) अरोजगार एवं सेवाएं Subjective Question 2023

लघु उत्तरीय प्रश्न

1. Out Sourcing किसे कहते हैं ?

उत्तर ⇒  जब बहुराष्ट्रीय कंपनियाँ या अन्य कंपनियाँ संबंधित नियमित सेवाएँ स्वयं अपनी कंपनियों के बजाय बाहरी या विदेशी स्रोत या संस्था या समूह से प्राप्त करती है तो उसे बाह्य स्रोत (Out Sourcing) कहा जाता है।

2. सरकारी सेवा किसे कहते हैं ?

उत्तर ⇒  जब देश या राज्य की सरकार लोगों को काम के बदले मासिक वेतन देती है और उनसे विभिन्न क्षेत्रों में काम लेती है तो उसे सरकारी सेवा कहा जाता है। जैसे- सैन्य सेवा, शिक्षा, स्वास्थ्य, वित्त, बैंकिंग इत्यादि।

3. आधारभूत संरचना किसे कहते हैं ?

उत्तर ⇒  आधारभूत संरचना से तात्पर्य उन सुविधाओं और सेवाओं से है जो देश के आर्थिक विकास के स्तम्भ होते हैं, जैसे वित्त, ऊर्जा, यातायात, संचार, शिक्षा, स्वास्थ्य, नागरिक सेवाएँ आदि।

4 . सूचना प्रौद्योगिकी (Information Technology) से जुड़े पाँच सेवा क्षेत्र को बतलाएँ।

उत्तर ⇒  सूचना प्रौद्योगिकी से जुड़े पाँच क्षेत्र निम्नलिखित हैं –
(i). कम्प्यूटर सेवाएँ
(ii). विज्ञान
(iii). सुरक्षा
(iv). कानूनी सेवाएँ
(v). चिकित्सा सेवाएँ

5. गैर सरकारी सेवा किसे कहते हैं ?

उत्तर ⇒  जब सरकार अपने द्वारा संचालित विभिन्न कार्यक्रमों को गैर सरकारी संस्थाओं के सहयोग से लोगों तक पहुँचाने का काम करती है अथवा लोग स्वयं अपने प्रयास से ऐसी सेवाओं के सृजन से लाभान्वित होते हैं तो उसे गैर सरकारी सेवा के अन्तर्गत रखा जाता है। जैसे– ब्यूटी पार्लर, बस, विमान संबंधी सेवाएँ।

Class 10th Social science Rojagaar evan Sevaen Subjective Question Answer

6. मंदी का असर भारत में क्या पड़ा ?

उत्तर ⇒  भारत पर मंदी का असर कम पड़ा क्योंकि यहाँ की पूँजी बाजार काफी मजबूत अवस्था में है। भारत में सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र काफी विकसित व मजबूत है। हमारा आधारभूत संरचना कमजोर होने के बावजूद वर्तमान मंदी का असर हमारे देश में कम पड़ा।

7. वैश्वीकरण का प्रभाव सेवा क्षेत्र पर क्या पड़ा ?

उत्तर ⇒  वैश्वीकरण के कारण विश्व की अर्थव्यवस्था एक-दूसरे से जुड़ गई है। वैश्वीकरण के कारण सेवा क्षेत्र का काफी विस्तार हुआ है। लोगों को दूसरे देश में जाकर रोजगार करने का खुला अवसर मिला है। भारत में श्रम संसाधनों की प्रचुरता है। सूचना एवं प्रौद्योगिकी क्षेत्र का वैश्विक स्तर पर काफी विस्तार हुआ है। हाल के वर्षों में व्याप्त मंदी के कारण सेवा क्षेत्र पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ा है।

8. आर्थिक संरचनाओं का क्या महत्व है ?

उत्तर ⇒  आर्थिक संरचना प्रत्यक्ष रूप से उत्पादन एवं लोगों की खुशहाली में वृद्धि करती है। आर्थिक विकास के सभी क्षेत्रों से उनका प्रत्यक्ष संबंध होता है। आर्थिक संरचना के अन्तर्गत वित्त, ऊर्जा, यातायात, संचार को शामिल किया जाता है।

9. ‘रोजगार’ और ‘सेवा’ में क्या संबंध है ?

उत्तर ⇒  रोजगार और सेवा का अभिप्राय इन बातों से है जब व्यक्ति अपने परिश्रम एवं शिक्षा के आधार पर जीविकोपार्जन के लिए धन एकत्रित करता है। एकत्रित धन क के रूप में व्यवहार किया जाता है और उत्पादन के क्षेत्र में निवेश किया जाता है तो सेवा क्षेत्र उत्पन्न होता है। अतः रोजगार एवं सेवाएँ एक दूसरे के पूरक हैं।

सामाजिक विज्ञान (हमारी अर्थव्यवस्था) पाठ – 5 रोजगार एवं सेवाएं SUBJECTIVE QUESTION

10. बीमारू (BIMARU) से क्या तात्पर्य है ?

उत्तर ⇒  बिहार, मध्य प्रदेश, राजस्थान, उड़ीसा इत्यादि राज्य भारत के काफी पिछड़े राज्यों में माने जाते हैं, जिन्हें बीमारू (BIMARU) के नाम से जाना जाता है। अतः इसका संक्षिप्त रूप BI-बिहार MA-मध्य प्रदेश, R-राजस्थान एवं U-उड़ीसा है। इन राज्यों में बुनियादी सुविधा, जैसे बिजली, सिंचाई, यातायात एवं परिवहन दूर संचार इत्यादि पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध नहीं है।

दीर्घ उत्तरीय प्रश्न

1. सेवा क्षेत्र में सरकारी प्रयास के रूप में क्या किये गए हैं, वर्णन करें।

उत्तर ⇒  सेवा क्षेत्र से तात्पर्य ऐसे क्षेत्र से हैं जहाँ शारीरिक शक्ति कार्य क्षमता और दक्षता के आधार पर रोजगार उपलब्ध कराया जाये। भारत में कृषि लोगों को रोजगार उपलब्ध कराने का सर्वाधिक बड़ा क्षेत्र है इसके साथ ही साथ उद्योग, व्यवसाय, स्वास्थ्य, यातायात आदि ऐसे क्षेत्र हैं, जिसमें लोगों को विभिन्न प्रकार की सेवाएँ मिलती राष्ट्रीय स्तर पर भारत सरकार के द्वारा रोजगार सजन है लिए अनेक कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। जैसे- काम के बदले अनाज, ग्रामीण भूमिहीन रोजगार गारंटी कार्यक्रम, समेकित ग्रामीण विकास कार्यक्रम, जवाहर रोजगार योजना, नरेगा इत्यादि।
उपर्युक्त सेवाओं के माध्यम से देश में बेरोजगारी की समस्या को दूर करने की कोशिश की जा रही है। सरकार का अनुमान है कि उपर्युक्त योजनाओं के द्वारा 62 प्रतिशत लोगों को रोजगार मुहैया कराया जा रहा है। शहरी क्षेत्र के बेरोजगारी को दूर करने के लिए अनेक प्रयास किए जा रहे हैं। ग्रामीण रोजगार के क्षेत्र में रोजगार उपलब्ध कराने के लिए नरेगा विश्व की सबसे बड़ी योजना मानी जाती है।

2. सेवा क्षेत्र पर एक संक्षिप्त लेख लिखें।

उत्तर ⇒  आर्थिक उदारीकरण एवं वैश्वीकरण के कारण सेवा क्षेत्र में अभूतपूर्व प्रगति हुई है। सेवा क्षेत्र रोजगार का एक व्यापक क्षेत्र है। जिसके अन्तर्गत आये दिन मानव संसाधन के लिए व्यापक पैमाने पर रोजगार उपलब्ध होने लगे हैं। वर्तमान समय में एकत्र घरेलू उत्पाद में सेवा क्षेत्र का योगदान 50 प्रतिशत से भी ज्यादा हो गया है। 2006-07 ई० में सकल घरेलू उत्पाद में सेवा क्षेत्र का योगदान 55. 1 प्रतिशत हो गया है।
सेवा क्षेत्र के विकास से रोजगार के अवसर को सृजित किया जा सकता है। सेवा क्षेत्र के विकास के लिए मनुष्य को शिक्षित करना नितांत आवश्यक है। जिस देश या राज्य का मानव पूँजी जितना ही समृद्ध होता है उस देश या राज्य का आर्थिक विकास उतना ही तीव्र गति से होता है। समृद्ध मानव पूँजी एक सशक्त श्रम-शक्ति को जन्म देता है जिसके कारण लोग रोजगार पाने में सक्षम हो पाते हैं। सेवा क्षेत्र में व्यापक सुधार के द्वारा आर्थिक विकास को त्वरित किया जा सकता है। सेवा क्षेत्र के अन्तर्गत वित्त, बीमा, यातायात, संचार, शिक्षा, स्वास्थ्य आदि को शामिल किया जाता है।

3. गैर सरकारी संस्था किस प्रकार सेवा क्षेत्र के विकास को सहयोग करता है उदाहरण देकर लिखें।

उत्तर ⇒  जब सरकार विभिन्न कार्यक्रमों को गैर सरकारी संस्था के सहयोग से लोगों तक पहुँचाने का काम करती है अथवा लोग स्वयं अपने प्रयास से ऐसी सेवाओं के सृजन से लाभान्वित होते हैं तो उसे गैर सरकारी सेवा के अन्तर्गत रखा जाता है। इस क्षेत्र के अन्तर्गत आनेवाली सेवाओं में ब्यूटी पार्लर, दूर संचार सेवाएँ, स्वरोजगार सेवाएँ, बस सेवा, विमान सेवा इत्यादि हैं। इनमें से कुछ सेवाएँ ऐसी हैं जो सरकारी एवं गैर सरकारी दोनों ही स्तर पर चलायी जाती है। खासकर यातायात सेवाएँ, शिक्षा सेवाएँ, स्वास्थ्य सेवाएँ बैंकिंग सेवाएँ इत्यादि का क्षेत्र इतना व्यापक है कि सरकार अकेले सक्षम नहीं है। सरकार के पास उतना वित्त भी नहीं है कि सारी योजनाओं को अपने हाथों में लेकर क्रियान्वित कर सके। गैर सरकारी संगठन कदम से कदम मिलाकर सामाजिक कार्यों के संचालन में सहयोग कर रही है। इनके प्रयास से शिक्षा, स्वास्थ्य, यातायात आदि सुविधाओं में व्यापक सुधार हुए हैं। सामाजिक व आर्थिक संरचना में सुधार के द्वारा आर्थिक विकास की गति तीव्र होती है।

कक्षा 10 रोजगार एवं सेवाएं का सब्जेक्टिव क्वेश्चन आंसर

4. वर्तमान आर्थिक मंदी का प्रभाव भारत के सेवा क्षेत्र पर क्या पड़ा लिखें ?

उत्तर ⇒  भारत में 1991 के वैश्वीकरण के पश्चात विकास में काफी परिवर्तन देखने को मिलता है। वैश्वीकरण, निजीकरण एवं उदारीकरण के कारण आर्थिक विकास के क्षेत्र में जाकर रोजगार करने का खुला अधिकार प्राप्त हो गया। यद्यपि आर्थिक विचारकों का एक ऐसा भी समूह है जो मानता है कि वैश्वीकरण, निजीकरण और उदारीकरण से आम आदमी का जीवन कठिन हो जाएगा और पूरी अर्थव्यवस्था पर अमीर देशों और अमीर लोगों का वर्चस्व हो जाएगा। वर्तमान मंदी के कारण सेवा क्षेत्र काफी प्रभावित हुआ है। उपभोक्ताओं की माँग बढ़ी है परन्तु उत्पादकों को उचित मूल्य नहीं मिल पा रहा है। इन उत्पादकों की लागत मूल्य से भी कम आय प्राप्त हो रही है। यही कारण है कि विकसित राष्ट्रों से तकनीकी वैज्ञानिकों को छटनी कर रोजगार से मुक्त कर दिया गया। इसका प्रभाव भारत के उन वैज्ञानिकों पर भी पड़ा जो दूसरे राष्ट्र में रोजगार कर रहे थे।
भारत में इसका असर कम पड़ा क्योंकि यहाँ की पूँजी बाजार काफी मजबूत अवस्था में अभी है। यहाँ के इंजीनियर आज भी बाह्य स्रोती (Out Sourcing) में लगे हुए हैं। खासकर भारत का सूचना प्रौद्योगिकी सेवा क्षेत्र काफी मजबूत है और पूरे विश्व में हमारे इंजीनियरों का स्थान अव्वल है। हमारा आधारभूत संरचना कमजोर होने के बावजूद भी वर्तमान मंदी का असर हमारे देश पर कम पड़ा। भारत के बंगलौर जैसे शहर का सूचना प्रौद्योगिकी (Information Technology) विश्व के अग्रणी सूचना प्रौद्योगिकी की श्रेणी में आ गया है।

5. विश्व के लिए भारत सेवा प्रदाता के रूप में किस तरह माना जाता है, उदाहरण सहित लिखें।

उत्तर ⇒  सेवा क्षेत्र में विशेषकर भारत में घरेलू व्यापार परिवहन अथवा यातायात एवं संचार सेवाएँ काफी तेजी से बढ़ी है। इसमें भी टेलीफोन विशेषकर मोबाइल फोन का सर्वाधिक योगदान रहा।
उदारनीति के कारण एक नई और अत्यन्त ही महत्त्वपूर्ण व्यापक गतिविधि के रूप में Out Sourcing उभर कर सामने आयी है। भारत में कम लागत पड़ने के कारण बहुराष्ट्रीय कंपनियाँ अपने कार्यों को भारत में करवाती हैं, जिनसे उनको लागत कम करने में सहायता मिलती है। भारत आज वैश्विक स्तर पर सूचना प्रौद्योगिकी का प्रदाता देश है। भारत से आज तेजी से ध्वनि आधारित प्रक्रिया यानी बी०पी०ओ० अथवा कॉल सेन्टर, अभिलेखांकन, लेखांकन, बैंकिंग सेवाएँ, रेलवे पूछताछ, संगीत की रिकार्डिंग, शिक्षण एवं शोध कार्य इत्यादि अनेक सेवाएँ अमेरिका, यूरोपीय संघ जैसे कई विकसित देशों की कंपनियाँ या संस्थाओं से प्राप्त कर रही हैं। आउट सोर्सिंग के मामले में भारत एक महत्वपूर्ण गंतव्य बन गया है। किन्तु संयुक्त राज्य अमेरिका, ब्रिटेन जैसे देशों के लिए यह चर्चित मुद्दा व समस्या बन गया है।


10th Class Social Science Subjective Question Answer : बिहार बोर्ड मैट्रिक परीक्षा 2023 इतिहास का लघु उत्तरीय प्रश्न और दीर्घ उत्तरीय प्रश्न उत्तर नीचे दिया गया है दिए गए लिंक पर क्लिक करके लघु उत्तरीय प्रश्न और दीर्घ उत्तरीय प्रश्न पढ़ सकते हैं । कक्षा 10 सामाजिक विज्ञान सब्जेक्टिव क्वेश्चन 2023

Social Science Subjective Question
S.N Class 10th Geography Question 2023
1. भारत : संसाधन एवं उपयोग
2. कृषि
3. निर्माण उद्योग
4. परिवहन , संचार एवं व्यापार
5. बिहार : कृषि एवं वन संसाधन
6. मानचित्र अध्ययन
S.N Class 10th History Question 2023
1. यूरोप में राष्ट्रवाद
2. समाजवाद एवं साम्यवाद
3. हिंद-चीन में राष्ट्रवादी आंदोलन
4. भारत में राष्ट्रवाद
5. अर्थव्यवस्था और आजीविका
6. शहरीकरण एवं शहरी जीवन
7.  व्यापार और भूमंडलीकरण
8. प्रेस- सांस्कृति एवं राष्ट्रवाद
S.N Class 10th Political Science Question 2023
1. लोकतंत्र में सत्ता की साझेदारी
2. सत्ता में साझेदारी की कार्यप्रणाली
3. लोकतंत्र में प्रतिस्पर्धा एवं संघर्ष
4. लोकतंत्र की उपलब्धियां
5. लोकतंत्र की चुनौतियां
S.N Class 10th Economics Question 2023
1. अर्थव्यवस्था एवं इसके विकास का इतिहास
2. राज्य एवं राष्ट्र की आय
3. मुद्रा, बचत एवं साख
4. हमारी वित्तीय संस्थाएं
5. रोजगार एवं सेवाएं
6. वैश्वीकरण
7. उपभोक्ता जागरण एवं संरक्षण
S.N Class 10th Aapda Prabandhan  Question 2023
1. प्राकृतिक आपदा : एक परिचय
2. बाढ़ और सूखा
3. भूकंप एवं सुनामी
4. जीवन रक्षक आकस्मिक प्रबंधन
5. आपदा काल में वैकल्पिक संचार व्यवस्था
6. आपदा और सह-अस्तित्व

Leave a Reply

Your email address will not be published.