Bihar Board Class 10th विज्ञान पाठ-1( प्रकाश का परावर्तन तथा अपवर्तन ) का महत्वपूर्ण सब्जेक्टिव क्वेश्चन, प्रकाश परावर्तन तथा अपवर्तन लघु उत्तरीय प्रश्न उत्तर, कक्षा-10 विज्ञान (भौतिकी विज्ञान) पाठ-01 प्रकाश के परावर्तन तथा अपवर्तन सब्जेक्टिव क्वेश्चन आंसर 2023, Prakash ka Pravartan Tatha Apvartan Subjective Question Answer 2023, Prakash Ke Paraavartan Tatha Apvartan Question Answer Class 10th Science Matric Exam 2023, प्रकाश- परावर्तन और अपवर्तन वर्ग हिंदी में 10 नोट पीडीएफ, प्रकाश परावर्तन तथा अपवर्तन सब्जेक्टिव लघु उत्तरीय प्रश्न उत्तर, प्रकाश का परावर्तन तथा अपवर्तन सब्जेक्टिव लघु उत्तरीय प्रश्न उत्तर 2023, प्रकाश परावर्तन तथा अपवर्तन के प्रश्न उत्तर pdf, प्रकाश- परावर्तन और अपवर्तन वर्ग हिंदी में 10 नोट पीडीएफ, Prakash ka pravartan tatha apvartan class 10th Subjective Laghu Uttareey Question Answer, class 10th science Subjective question pdf,  prakash ka pravartan tatha apvartan class 10th Laghu Uttareey Prashn uttar pdf download, prakash ka pravartan tatha apvartan class 12 Subjective pdf download, prakash ka pravartan tatha apvartan class 10th numerical,  prakash ka pravartan tatha apvartan by khan sir, प्रकाश का परावर्तन तथा अपवर्तन कक्षा 10 pdf, 
Class 10th Science Subjective Question

प्रकाश का परावर्तन तथा अपवर्तन (लघु उत्तरीय प्रश्न उत्तर) कक्षा-10 विज्ञान (भौतिकी विज्ञान) || Prakash ka Pravartan Tatha Apvartan Subjective Question Answer 2023

दोस्तों यहां पर  बिहार बोर्ड मैट्रिक परीक्षा 2023 कक्षा 10th विज्ञान का सब्जेक्टिव प्रश्न उत्तर (Class 10th Science Question Answer) दिया गया है तो अगर आप लोग मैट्रिक परीक्षा 2023 की तैयारी कर रहे हैं तो क्लास 10th प्रकाश के परावर्तन तथा अपवर्तन का लघु उत्तरीय प्रश्न ( Prakash ka Pravartan Tatha Apvartan ka Laghu Uttareey Question Answer ) यहां पर दिया गया है जोकि आने वाले परीक्षा के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है, तथा यहां पर क्लास 10th विज्ञान का मॉडल पेपर(Class 10th Science Model Paper)  तथा यहां पर क्लास 10th विज्ञान का ऑनलाइन टेस्ट (Class 10th Science Online Test) भी इस वेबसाइट पर मिल जाएगा, अगर आप लोग प्रकाश का परावर्तन तथा अपवर्तन का ऑब्जेक्टिव क्वेश्चन भी पढ़ना चाहते हैं तो लिंक पर क्लिक करके इसे आप लोग पढ़ सकते हैं धन्यवाद-

Join Telegram
S.N Science (विज्ञान) 📒
1. Physics (भौतिक बिज्ञान) Guess Paper
2. Chemistry (रसायन शास्त्र) Guess Paper
3. Biology (जिव-विज्ञान) Guess Paper

Bihar Board Class 10th विज्ञान पाठ-1( प्रकाश का परावर्तन तथा अपवर्तन ) का महत्वपूर्ण सब्जेक्टिव क्वेश्चन


प्रकाश का परावर्तन ( 2 अंक स्तरीय प्रश्न )

1. प्रकाश का परावर्तन किसे कहते हैं ?

उत्तर ⇒ प्रकाश का किसी वस्तु से टकराकर लौटने की क्रिया को प्रकाश का परावर्तन कहते हैं।


2. अवतल दर्पण में बनने वाले प्रतिबिंब की प्रमुख विशेषता क्या हैं।

उत्तर ⇒ अवतल दर्पण में बनने वाला प्रतिबिंब वास्तविक और आभासी ओगा


3. मुख्य अक्ष से आप क्या समझते हैं ?

उत्तर ⇒ गोलीय दर्पण के ध्रुव से वक्रता-केन्द्र को मिलने वाली सरल रेखा को दर्पण का प्रधान या मुख्य अक्ष कहते हैं।


4. गोलीय दर्पण किसे कहते हैं ?

उत्तर ⇒ गोलीय दर्पण उस दर्पण को कहते हैं जिसकी परावर्तक सतह किसी खोखले गोले का एक भाग होता है।


5. एक दर्पण का आवर्द्धन 0.4 है। यह दर्पण किस प्रकार का होगा ? इसका प्रतिबिंब कैसा बनेगा ?

उत्तर ⇒  m = 0.4 < 1
अतः दर्पण उत्तल होगा क्योंकि दर्पण का आवर्द्धन धनात्मक (+ve) है और वह 1 से कम है। अतः प्रतिबिंब छोटा और सीधा बनेगा।


6. उत्तल दर्पण किसे कहते हैं ?

उत्तर ⇒ जिस दर्पण में प्रकाश का परावर्तन दर्पण के बाहरी सतह से होता है उसे उत्तल दर्पण कहते हैं।


7. अवतल दर्पण किसे कहते हैं ?

उत्तर ⇒ जिस दर्पण में प्रकाश का परावर्तन दर्पण के भीतरी सतह से होता है उसे अवतल दर्पण कहते हैं।


8. प्रकाश की एक किरण समतल दर्पण के साथ 40° का कोण बनाती है। इसका परावर्तन कोण कितना होगा ?

उत्तर ⇒ प्रकाश की किरण का समतल दर्पण के साथ बना कोण = 40°
∴ अभिलम्ब के साथ बना कोण, ∠i = 90° – 40° = 50°
परावर्तन के दुसरे नियम से, ∠i = ∠r = 50°
अतः परावर्तन कोण, ∠r = 50°

प्रकाश की एक किरण समतल दर्पण के साथ 40° का कोण बनाती है। इसका परावर्तन कोण कितना होगा ?


9. कोई अवतल दर्पण अपने सामने 10 cm दूरी पर रखे किसी बिंब का तीन गुणा आवर्द्धित (बड़ा) वास्तविक प्रतिबिंब बनाता है। प्रतिबिंब दर्पण से कितनी दूरी पर है ?

उत्तर ⇒ आवर्द्धन, m = -3 (∴ प्रतिबिम्ब वास्तविक है।)
बिंब की दूरी, u = -10 cm
प्रतिबिंब की दूरी, y = ?

कोई अवतल दर्पण अपने सामने 10 cm दूरी पर रखे किसी बिंब का तीन गुणा आवर्द्धित (बड़ा) वास्तविक प्रतिबिंब बनाता है। प्रतिबिंब दर्पण से कितनी दूरी पर है ?

अतः प्रतिबिंब दर्पण के आगे 30 cm की दूरी पर स्थित होगा।


10. एक आदमी का चेहरा 24 cm लंबा है और 20 cm चौड़ा है। उसके पूरे चेहरे को देखने के लिए दर्पण कम-से-कम किस आकार का होना चाहिए ?

उत्तर ⇒ दर्पण का आकार वस्तु के वास्तविक आकार से आधा अवश्य होना चाहिए ताकि वह पूरा दिखाई दे सके।

∴ दर्पण की लंबाई = 24/2 = 12 cm
दर्पण की चौड़ाई = 20/2 = 10 cm


प्रकाश परावर्तन तथा अपवर्तन लघु उत्तरीय प्रश्न उत्तर

11. उस अवतल दर्पण की फोकस दूरी ज्ञात कीजिए जिसकी वक्रता त्रिज्या 32 cm है।

उत्तर ⇒ वक्रता त्रिज्या, r = -32 cm है।
उस अवतल दर्पण की फोकस दूरी ज्ञात कीजिए जिसकी वक्रता त्रिज्या 32 cm है।

अतः फोकस दूरी = 16 cm


12. एक अवतल दर्पण के सामने 27 cm की दूरी पर रखी वस्तु का प्रतिबिम्ब दर्पण से 54 cm पर उसी ओर बनता है जिस ओर वस्तु है, तो दर्पण से प्राप्त आवर्द्धन कितना होगा ?

उत्तर ⇒ u = – 27 cm, v = – 54cm
एक अवतल दर्पण के सामने 27 cm की दूरी पर रखी वस्तु का प्रतिबिम्ब दर्पण से 54 cm पर उसी ओर बनता है जिस ओर वस्तु है, तो दर्पण से प्राप्त आवर्द्धन कितना होगा ?


13. एक गोलीय दर्पण की वक्रता त्रिज्या 20 cm है। इसकी फोकस दूरी क्या होगी ?

उत्तर ⇒ R= 20 cm, f = ?
फोकस दूरी, एक गोलीय दर्पण की वक्रता त्रिज्या 20 cm है। इसकी फोकस दूरी क्या होगी ?


14. एक आदमी समतल दर्पण के सामने से 2 m/s वेग से दूर जा रहा है। वह समतल दर्पण में अपने प्रतिबिंब से कितने वेग से दूर हट रहा है ?

उत्तर ⇒ आदमी का वेग = 2 m/s उसका प्रतिबिंब उल्टे दिशा में उसी वेग से दूर जा रहा है।
अतः प्रतिबिंब का सापेक्षिक वेग
= [2 – (-2) ] m/s = 2 + 2 = 4 m/s


15. अवतल एवं उत्तल दर्पण के फोकस एवं फोकस-दूरी में क्या अंतर है ?

उत्तर ⇒ अवतल दर्पण का फोकस वास्तविक और फोकस दूरी ऋणात्मक होता है जबकि उत्तल दर्पण का फोकस काल्पनिक एवं फोकस-दूरी धनात्मक होता है।


16. एक समतल दर्पण द्वारा उत्पन्न आवर्द्धन +1 है। इसका क्या अर्थ है ?

उत्तर ⇒ m = +1 दर्शाता है कि प्रतिबिम्ब, बिम्ब के साइज के बराबर है। m का धनात्मक चिन्ह दर्शाता है कि प्रतिबिम्ब आभासी तथा सीधा है।


17. दर्पण का द्वाराक किसे कहते हैं ?

उत्तर ⇒ दर्पण के परावर्तक सतह के क्षेत्र को उसका द्वारक कहते हैं।


18. छाया किसे कहते हैं ?

उत्तर ⇒ जब किसी अपारदर्शी वस्तु पर प्रकाश पड़ता है तो प्रकाश के पड़ने के विपरीत और अंधेरा क्षेत्र बनता है, जिसे उस वस्तु का छाया कहते हैं।


19. प्रतिबिंब किसे कहते हैं ?

उत्तर ⇒ किसी वस्तु से आरही प्रकाश की किरणें परावर्तन या अपवर्तन के बाद जिस बिन्दु पर मिलती है या जिस बिंदु से आती हुई मालूम पड़ती है, उसे उस वस्तु का प्रतिबिंब कहते हैं।


20. 15 cm फोकस दूरी के किसी उत्तल दर्पण से कोई बिम्ब 10 cm के दूरी पर रखा है। प्रतिबिंब की स्थिति तथा प्रकृति ज्ञात कीजिए।

उत्तर ⇒ बिंब की दर्पण से दूरी, u = -10 cm, f = 15 cm
प्रतिबिंब की दर्पण से दूरी v = ?

15 cm फोकस दूरी के किसी उत्तल दर्पण से कोई बिम्ब 10 cm के दूरी पर रखा है। प्रतिबिंब की स्थिति तथा प्रकृति ज्ञात कीजिए।

धनात्मक चिन्ह यह दर्शाता है कि प्रतिबिम्ब दर्पण के पीछे होगा और यह प्रतिबिम्ब आभासी, सीधा तथा छोटा बनेगा।


कक्षा-10 विज्ञान (भौतिकी विज्ञान) पाठ-01 प्रकाश के परावर्तन तथा अपवर्तन सब्जेक्टिव क्वेश्चन आंसर 2023

21. प्रकाश के परावर्तन के नियम लिखिए।

उत्तर ⇒ प्रकाश के परावर्तन के दो नियम हैं –

परावर्तन का पहला नियम : आपतित किरण, परावर्तित किरण तथा आपतन बिन्दु पर खींचा गया अभिलम्ब तीनों एक ही समतल में होते हैं।

परावर्तन का दुसरा नियम : आपतन कोण परावर्तन कोण के बराबर होता है। ∠i=∠r


22. पार्श्व परिवर्तन किसे कहते हैं ?

उत्तर ⇒ जब हम अपने ही प्रतिबिम्ब को दर्पण में देखते हैं तो पाते हैं कि वह हर तरह से हमारे ही समान है। परन्तु, ध्यान से देखने पर एक अन्तर का पता चलता है- यदि हम अपना दाहिना हाथ उठाते हैं तो लगता है कि प्रतिबिम्ब का बायाँ हाथ उठ रहा है। दूसरे शब्दों में, वस्तु का दाहिना भाग समतल दर्पण में प्रतिबिम्ब का बायाँ भाग तथा वस्तु का बायाँ भाग प्रतिबिम्ब का दाहिना भाग दिखाई पड़ता है। इसी को पार्श्व परिवर्तन कहते हैं।


23. हजामत बनाने के लिए किस तरह के दर्पण का प्रयोग किया जाता है और क्यों ?

उत्तर ⇒ हजामत बनाने के लिए अवतल दर्पण का प्रयोग किया जाता है। क्योंकि जब चेहरा अवतल दर्पण के ध्रुव (P) तथा फोकस (F) के बीच होता है तो दर्पण में चेहरे का बड़ा, सीधी तथा आभासी प्रतिबिंब बनता है।


24. प्रकाश की प्रकृति की विशेषताएँ लिखिए।

उत्तर ⇒ प्रकाश की प्रकृति की विशेषताएँ निम्न हैं।

(i). प्रकाश निर्वात में भी गमन कर सकता है।
(ii). इसकी चाल माध्यम की प्रकृति पर आधारित होती है।
(iii). प्रकाश विधुत चुम्बकीय विकिरण है।


25. उत्तल दर्पण को साइड मिरर के रूप में क्यों उपयोग किया जाता है ?

उत्तर ⇒ उत्तल दर्पण को साइड मिरर के रूप में प्रयोग किया जाता है क्योंकि वे किसी वस्तु का हमेशा सीधा प्रतिबिम्ब बनाता है, यद्यपि वह छोटा होता है इसका दृष्टि क्षेत्र काफी बड़ा होता है। क्योंकि ये बाहर की ओर वक्रित होता है।


26. हम वाहनों में उत्तल दर्पण को पश्च-दृश्य दर्पण के रूप में वरीयता क्यों देते हैं ?

उत्तर ⇒ हम वाहनों में उत्तल दर्पण को पश्च-दृश्य दर्पण के रूप में वरीयता देते हैं क्योंकि ये सदैव सीधा व आभासी प्रतिबिंब बनाते हैं। इनका दृष्टि क्षेत्र भी बहुत अधिक होता है जिससे ड्राइवर अपने पीछे के बहुत बड़े क्षेत्र को देखने में समर्थ होता है।


27. अवतल दर्पण को अभिसारी दर्पण एवं उत्तल दर्पण का अपसारी दर्पण कहते हैं। क्यों ?

उत्तर ⇒ मुख्य-अक्ष के समांतर एवं निकट आपतित किरणों को अवतल दर्पण एक बिंदु पर अभिसारित करता है जबकि उत्तल दर्पण उसे एक बिंदु से अपसरित करता है। इसीलिए अवतल दर्पण को अभिसारी और उत्तल दर्पण का अपसारी दर्पण कहते हैं।


28. वास्तविक और काल्पनिक (आभासी) प्रतिबिंब को परिभाषित करें ?

उत्तर ⇒ वास्तविक प्रतिबिंब : किसी वस्तु से आती हुई प्रकाश की किरणें परावर्तन या अपवर्तन के बाद जिस बिंदु पर वास्तव में मिलते हैं, उसे उस वस्तु का वास्तविक प्रतिबिंब कहते हैं।

काल्पनिक (आभासी) प्रतिबिंब : किसी वस्तु से आती हुई प्रकाश की किरणें परावर्तन या अपवर्तन के बाद जिस बिंदु से आती हुई मालूम पड़ती है, उसे उस वस्तु का काल्पनिक या आभासी प्रतिबिंब कहते हैं।


29. वास्तविक और काल्पनिक प्रतिबिंब में अन्तर स्पष्ट कीजिए ?

उत्तर ⇒ वास्तविक और काल्पनिक प्रतिबिंब में निम्न अन्तर हैं –
वास्तविक प्रतिबिंब :
(I). यह वास्तविक किरणों के मिलने से बनता है।
(II). यह हमेशा वस्तु की अपेक्षा उल्टा होता है।
(III). इसे पर्दे पर प्राप्त किया जा सकता है।

काल्पनिक प्रतिबिंब:
(I). यह काल्पनिक किरणों के मिलने से बनता है।
(II). यह हमेशा वस्तु की अपेक्षा सीधा होता है।
(III). इसे पर्दे पर प्राप्त नहीं किया जा सकता है।


30. अवतल दर्पण एवं उत्तल दर्पण में अन्तर स्पष्ट कीजिए ?

उत्तर ⇒ अवतल एवं उत्तल दर्पणों में निम्नलिखित अंतर है।
अवतल दर्पण :
(I). इसका परावर्तक सतह अन्दर की ओर धसा होता है।
(II). इसका फोकस सामने और फोकस दूरी ऋणात्मक होता है।
(III). यह वस्तु का वास्तविक और काल्पनिक दोनों प्रकार का प्रतिबिंब बनाता है।

उत्तल दर्पण :
(I). इसका परावर्तक सतह बाहर की ओर उठा (उभरा) होता है।
(II). इसका फोकस पीछे और फोकस दूरी धनात्मक होती है।
(III). यह वस्तु का केवल काल्पनिक प्रतिबिंब बनाता है।


Prakash Ke Paraavartan Tatha Apvartan Question Answer Class 10th Science Matric Exam 2023

31. अवतल दर्पण द्वारा किसी वस्तु का काल्पनिक और आवर्धित प्रतिबिंब कब बनता है? किरण आरेख द्वारा दर्शाएँ।

उत्तर ⇒ यदि वस्तु को अवतल दर्पण के ध्रुव एवं फोकस-बिंदु के बीच रखा जाए, तो बना प्रतिबिंब आभासी एवं आवर्धित होगा।

चित्र में वस्तु AB की स्थिति ध्रुव P एवं फोकस बिंदु F के बीच हैं, जिसका आर्वर्धित, आभासी एवं सीधा प्रतिबिंब A’B‘ बना हैं।


32. प्रधान फोकस और फोकस मं क्या अंतर है ?

उत्तर ⇒ प्रधान फोकस दर्पण के प्रधान-अक्ष पर रहता है, जबकि प्रकाश की समांतर किरणें दर्पण से परावर्तित होने के बाद जिस बिंदु पर फोकसित होती है, उसे फोकस कहते हैं। अत: यह आवश्यक नहीं है कि फोकस दर्पण के प्रधान-अक्ष पर ही हो।


33. अवतल, उत्तल एवं समतल दर्पण के दो-दो उपयोगों को लिखिए ?

उत्तर ⇒ अवतल दर्पण के दो उपयोग –
(i) दाढ़ी बनाने में
(ii) डॉक्टरी जाँच में

उत्तल दर्पण के दो उपयोग –
(i) साइड मिरर के रूप में
(ii) सड़क बत्ती के परावर्तक सतह में

समतल दर्पण के दो उपयोग –
(i) सोलर कुकर के परावर्तक सतह
(ii) ऐनक के रूप में


34. जब अवतल दर्पण का उपयोग (i) हजामती दर्पण के रूप में तथा (ii) डॉक्टर के दर्पण के रूप में किया जाता है, तो वस्तु की स्थिति क्या होनी चाहिए ?

उत्तर ⇒ (i) फोकस और ध्रुव के बीच में। (ii) फोकस पर।


प्रकाश परावर्तन तथा अपवर्तन सब्जेक्टिव लघु उत्तरीय प्रश्न उत्तर

35. गोलीय दर्पण के ध्रुव और वक्रता-केन्द्र को परिभाषित करें ?

उत्तर ⇒ ध्रुव-गोलीय दर्पण के ज्यामितीय केन्द्र को दर्पण का ध्रुव कहते हैं।

वक्रता-केन्द्र : गोलीय दर्पण जिस खोखले गोले का भाग होता है, उस गोले के केन्द्र को दर्पण वक्रता-केन्द्र कहते हैं।


36. गोलीय दर्पण के मुख्य फोकस या फोकस किसे कहते हैं ?

उत्तर ⇒ मुख्य-अक्ष के समांतर एवं निकट आपतित किरण दर्पण से परावर्तन के बाद मुख्य-अक्ष के जिस बिंदु पर अभिसरित होती है या जिस बिंदु से आती हुई प्रतीत होती है, उस बिंदु को गोलीय दर्पण का फोकस कहते हैं।


37. गोलीय दर्पण की फोकस-दूरी और वक्रता-त्रिज्या किसे कहते हैं ?

उत्तर ⇒ फोकस-दूरी : गोलीय दर्पण के ध्रुव और फोकस के बीच की दूरी को फोकस-दरी कहते हैं।

वक्रता-त्रिज्या : गोलीय दर्पण के ध्रुव और वक्रता-केन्द्र के बीच की दूरी को वक्रता-त्रिज्या कहते हैं।


प्रकाश का अपवर्तन ( 2 अंक स्तरीय प्रश्न )

1. किसी लेंस की 1 डाइऑप्टर क्षमता को परिभाषित कीजिए।

उत्तर ⇒ 1 डाइऑप्टर : अगर किसी लेंस की फोकस दूरी 1 मीटर हो तब लेंस की क्षमता 1 डाइऑप्टर कहलाती है।


2. 2 m फोकस दूरी वाले किसी अवतल लेंस की क्षमता ज्ञात कीजिए।

उत्तर ⇒ f = -2 m (अवतल लेंस की फोकस दूरी)

लेंस की क्षमता P, 2 m फोकस दूरी वाले किसी अवतल लेंस की क्षमता ज्ञात कीजिए।


3. घनत्व के दृष्टिकोण से माध्यम कितने प्रकार के होते हैं ?

उत्तर ⇒ घनत्व के दृष्टिकोण से माध्यम दो प्रकार के होते हैं।
I. विरल माध्यम : कम घनत्व वाले माध्यम को ‘विरल माध्यम’ कहते हैं। जैसे- हवा।
II. सघन माध्यम : अधिक घनत्व वाले माध्यम को ‘सघन माध्यम’ कहते हैं। जैसे- काँच, पानी आदि।


4. वायुमंडलीय अपवर्तन का सूर्योदय और सूर्यास्त पर क्या प्रभाव है ?

उत्तर ⇒ वायुमंडलीय अपवर्तन के कारण सूर्य वास्तव में उदय होने से 2 मिनट पहले दिखाई देता है और सूर्यास्त के 2 मिनट बाद तक दिखाई देता है।


5. प्रकाश के किस रंग का विचलन सबसे कम तथा किस रंग का विचलन सबसे अधिक होता है ?

उत्तर ⇒ प्रकाश के लाल रंग का विचलन सबसे कम और बैंगनी रंग का विचलन सबसे अधिक होता है।


प्रकाश परावर्तन तथा अपवर्तन के प्रश्न उत्तर pdf

6. अपवर्तनांक किसे कहते हैं? इसका व्यंजक एवं मात्रक लिखिए ?

उत्तर ⇒ किन्हीं दो माध्यमों के लिए आपतन कोण की ज्या तथा अपवर्तन कोण की ज्या के अनुपात को अपवर्तनांक कहते हैं।
अपवर्ननांक (μ) Sini/sinr
अपवर्तनांक का मात्रक नहीं होता है क्योंकि यह दो समान राशियों का अनुपात है।


7. इंद्रधनुष क्या होता है? यह कब दिखाई देता है ?

उत्तर ⇒ इंद्रधनुष आकाश में प्रकट होने वाला सात रंगों का एक चाप (arch) है जो वायुमण्डल में वर्षा की बूदों द्वारा सूर्य के प्रकाश के विक्षेपण द्वारा उत्पन्न होता है। यह प्राय: वर्षा के पश्चात दिखाई देता है।


8. आवर्धन किसे कहते हैं ?

उत्तर ⇒ प्रतिबिंब की ऊँचाई और वस्तु की ऊँचाई के अनुपात को आवर्धन कहते हैं। इसे m द्वारा दर्शाया जाता है।

आवर्धन किसे कहते हैं ?


9. किसी उत्तल लेंस का आधा भाग काले कागज से ढक दिया गया है। क्या यह लेंस किसी बिंब का पूरा प्रतिबिंब बना पाएगा ? स्पष्ट कीजिए।

उत्तर ⇒ हाँ, यह लेन्स किसी बिम्ब का पूरा प्रतिबिम्ब बनायेगा लेकिन प्रतिबिम्ब की तीव्रता घट जाएगी क्योंकि किरणों की संख्या कम हो जाती है।


10. लेंस की क्षमता (शक्ति) क्या है ? इसका S.I. मात्रक लिखें।

उत्तर ⇒ लेंस की फोकस दूरी के व्युत्क्रम को लेंस की क्षमता कहते हैं, जहाँ फोकस दूरी मीटर में होता है।

लेंस की क्षमता (P) = 1/f
इसका S.I. मात्रक डाइऑप्टर होता है।


11. पानी में डूबी हुई लकड़ी मुड़ी हुई प्रतीत होता है। क्यों ?

उत्तर ⇒ जब पानी में लकड़ी का एक सीधा टुकड़ा डुबोया जाता है तो प्रकाश के अपवर्तन के कारण वह मुड़ा हुआ प्रतीत होता है। जैसे ही प्रकाश की किरणें सघन माध्यम से विरल माध्यम में आती हैं वैसे ही वे लम्ब से परे मुड़ जाती हैं जिस कारण लकड़ी का टुकड़ा मुड़ा हुआ प्रतीत होता है।


12. प्रकाश के अपवर्तन से क्या तात्पर्य है ?

उत्तर ⇒ जब प्रकाश की किरण एक माध्यम से दूसरे माध्यम में प्रवेश करता है, तो वह अपने पथ से थोड़ा विचलित हो जाता है। इस घटना को प्रकाश का अपवर्तन कहते हैं।


13. प्रकाश के अपवर्तन से संबंधिक स्नेल का नियम लिखिए ?

उत्तर ⇒ प्रकाश के अपवर्तन के दूसरे नियम को स्नेल का नियम कहते हैं। इसके अनुसार किन्हीं दो माध्यमों और प्रकाश के किसी विशेष रंग के लिए आपतन कोण की ज्या और अपवर्तन कोण की ज्या का अनुपात एक नियतांक होता है।

अर्थात,sini/sinr = एक नियतांक


14. अपवर्तनांक की परिभाषा दें ?

उत्तर ⇒ किसी माध्यम का अपवर्तनांक शून्य में प्रकाश की चाल और उस माध्यम में प्रकाश की चाल के अनुपात को कहते हैं। अर्थात् किसी माध्यम का अपवर्तनांक
अपवर्तनांक की परिभाषा दें ?


Prakash ka pravartan tatha apvartan class 10th Subjective Laghu Uttareey Question Answer

15. प्रकाश के अपवर्तन का क्या कारण है ?

उत्तर ⇒ भिन्न-भिन्न पारदर्शी माध्यमों में प्रकाश के किसी खास रंग का वेग भिन्न-भिन्न होता है। सघन माध्यम में वेग घटने के कारण प्रकाश की किरण अभिलंब की ओर मुड़ जाती है और विरल माध्यम में वेग बढ़ने के कारण प्रकाश की किरण अभिलंब से दूर हो जाती है। इन्हीं कारणों से प्रकाश का अपवर्तन होता है।


16. लेंस का द्वारक किसे कहते हैं ?

उत्तर ⇒ किसी गोलीय लेंस की वृत्ताकार रूपरेखा का प्रभावी व्यास को उस गोलीय लेंस का द्वारक कहते हैं।


17. पूर्ण आंतरिक परावर्तन को स्पष्ट कीजिए ?

उत्तर ⇒ जब प्रकाश की किरण सघन माध्यम से विरल माध्यम में जाती है और आपतन कोण का मान क्रांतिक कोण से अधिक होता है, तब प्रकाश की किरण का दूसरे माध्यम में अपवर्तन नहीं होता है और किरण उसी माध्यम में प्रकाश के परावर्तन के नियम का पालन करते हुए लौट आती है। इस प्रकाशीय घटना को पूर्ण आंतरिक परावर्तन कहते हैं।


18. कोई डॉक्टर +1.5 D क्षमता का संशोधक लेंस निर्धारित करता है। लेंस की फोकस दूरी ज्ञात कीजिए। क्या निर्धारित लेंस अभिसारी है अथवा अपसारी ?

उत्तर ⇒ कोई डॉक्टर +1.5 D क्षमता का संशोधक लेंस निर्धारित करता है। लेंस की फोकस दूरी ज्ञात कीजिए। क्या निर्धारित लेंस अभिसारी है अथवा अपसारी ?

अतः लेंस अभिसारी है।


19. उस लेंस की फोकस दूरी ज्ञात कीजिए जिसकी क्षमता -2.0D है। यह किस प्रकार का लेंस है ?

उत्तर ⇒ लेंस की क्षमता उस लेंस की फोकस दूरी ज्ञात कीजिए जिसकी क्षमता -2.0D है। यह किस प्रकार का लेंस है ?

अतः ऋणात्मक (-ve) चिन्ह बताता है कि यह अवतल लेंस है।


20. हीरे का अपवर्तनांक 2.42 है। इस कथन का क्या अभिप्राय है ?

उत्तर ⇒ हमें पता है कि हीरे का अपवर्तनांक सबसे अधिक है। इसलिए इसका प्रकाशित घनत्व भी सबसे अधिक होगा।

जैसे –हीरे का अपवर्तनांक 2.42 है। इस कथन का क्या अभिप्राय है ?

यदि n का मान अधिक है तो v का मान कम होगा। इसलिए हीरे में प्रकाश की गति सबसे कम है।


21. प्रकाश वायु से 1.50 अपवर्तनांक की काँच की प्लेट में प्रवेश करता है। काँच में प्रकाश की चाल कितनी है ? निर्वात में प्रकाश की चाल 3×10⁸  m/s है।

उत्तर ⇒ अपवर्तनांक, n = 1.5
काँच की प्लेट में प्रकाश की चाल v = ?
निर्वात में प्रकाश की चाल, C = 3 x 10⁸  m/s

प्रकाश वायु से 1.50 अपवर्तनांक की काँच की प्लेट में प्रवेश करता है। काँच में प्रकाश की चाल कितनी है ? निर्वात में प्रकाश की चाल 3x10⁸  m/s है।


22. प्रकाश के अपवर्तन के नियम लिखिए।

उत्तर ⇒ प्रकाश के अपवर्तन के दो नियम हैं –
अपवर्तन का पहला नियम : आपतित किरण, आपतन बिन्दु पर अभिलम्ब और अपवर्तित किरण तीनों एक सी समतल में होते हैं।

अपवर्तन का दूसरा नियम/स्नेल का नियम : किन्हीं दो माध्यमों और प्रकाश के किसी विशेष वर्ण के लिए आपतन कोण की ज्या और अपवर्तन कोण की ज्या का अनुपात एक नियतांक है। अर्थात् sini/sinr = एक नियतांक


prakash ka pravartan tatha apvartan class 10th Laghu Uttareey Prashn uttar pdf download

23. आपको किरोसिन, तारपीन का तेल तथा जल दिए गए हैं इनमें से किसमें प्रकाश सबसे अधिक तीव्र गति से चलता है ? स्पष्ट कीजिए।

उत्तर ⇒ किरोसिन का अपवर्तनांक = 1.44
तारपीन के तेल का अपवर्तनांक = 1.47
जल का अपवर्तनांक =1.33
अतः प्रकाश उस माध्यम में तेजी से चलेगा जिसमें उसका अपवर्तनांक सबसे कम होगा और इन तीनों में से जल का अपवर्तनांक सबसे कम है, इसलिए प्रकाश जल में सबसे अधिक तीव्र गति से चलेगा।


24. वायु में गमन करती प्रकाश की एक किरण जल में तिरछी प्रवेश करती है। क्या प्रकाश किरण अभिलंब की ओर झुकेगी अथवा अभिलंब से दूर हटेगी? बताइए क्यों ?

उत्तर ⇒ जब कोई प्रकाश किरण वायु से जल में प्रवेश करती है तो यह अभिलम्ब की ओर झुकती है। यह इसलिए होता है क्योंकि वायु विरल तथा जल सघन माध्यम है। विरल माध्यम में प्रकाश की चाल सघन माध्यम की अपेक्षा अधिक होती हैं।


25. प्रकाश का विक्षेपण किसे कहते हैं ?

उत्तर ⇒ जब काँच की प्रिज्म से प्रकाश का पुंज गुजारा जाए तो यह सात रंगों में बंट जाता है जिसे प्रकाश का विक्षेपण कहते हैं। इन सात रंगों को बैंगनी (Violet), हल्के नीला (Indigo), नीला (Blue), हरा (Green), पीला (Yellow), संतरी (Orange) और लाल (Red) वर्ण क्रम में व्यवस्था प्राप्त होती है। ये सभी रंग अलग-अलग कोण पर मुड़ते हैं। लाल रंग सबसे कम मुड़ता है और बैंगनी सबसे अधिक। वर्णक्रम को VIBGYOR के द्वारा याद रखा जा सकता है। प्रकाश का विक्षेपण प्रकाश के अपवर्तन के कारण होता है।


26. एक उत्तल लेंस से 30 cm की दूरी पर रखी एक वस्तु का वास्तविक प्रतिबिंब लेंस से 20 cm की दूरी पर बनता है। लेंस की फोकस दूरी ज्ञात कीजिए ?

उत्तर ⇒ यहाँ, u = -30 cm, v = 20 cm

एक उत्तल लेंस से 30 cm की दूरी पर रखी एक वस्तु का वास्तविक प्रतिबिंब लेंस से 20 cm की दूरी पर बनता है। लेंस की फोकस दूरी ज्ञात कीजिए ?

अतः लेंस की फोकस दूरी = 12 cm


27. एक उत्तल लेंस की फोकस दूरी 10 cm है। इससे 15 cm की दूरी पर एक वस्तु रखी हुई है। प्रतिबिंब की स्थिति और प्रकृति बताईए ?

उत्तर ⇒ यहाँ, ƒ = 10 cm, u = -15 cm

एक उत्तल लेंस से 30 cm की दूरी पर रखी एक वस्तु का वास्तविक प्रतिबिंब लेंस से 20 cm की दूरी पर बनता है। लेंस की फोकस दूरी ज्ञात कीजिए ?

अतः प्रतिबिंब लेंस से 30 cm की दूरी पर दायीं ओर बनता है और वास्तविक है।


28. उत्तल और अवतल लेंस में अन्तर स्पष्ट कीजिए ?

उत्तर ⇒ उत्तल और अवतल लेंस में अन्तर निम्नलिखित हैं –
उत्तल लेंस :
I. यह बीच में मोटा और किनारों पर पतला होता है।
II. इसकी क्षमता धनात्मक होती है।
III. इसकी फोकस दूरी धनात्मक होती है।
IV. इसके द्वारा वस्तु का वास्तविक और आभासी दोनों प्रकार का प्रतिबिंब बनता है।

अवतल लेंस :
I. यह बीच में पतला और किनारों पर मोटा होता है।
II. इसकी क्षमता ऋणात्मक होती है।
III. इसकी फोकस दूरी ऋणात्मक होती है।
IV. इसके द्वारा वस्तु का केवल आभासी प्रतिबिंब बनता है।


prakash ka pravartan tatha apvartan class 10th numerical

29. आप उत्तल लेंस तथा अवतल लेंस की पहचान बिना स्पर्श किए कैसे करेंगे ?

उत्तर ⇒ इसके लिए हम दोनों लेंसों को बारी-बारी से पकड़ कर किसी पुस्तक के एक छपे पृष्ठ के पास लाते हैं और छपे अक्षरों को ध्यान से देखते हैं

I. यदि छपे अक्षर अपने वास्तविक आकार से बड़े दिखाई पड़ते हैं, तो यह उत्तल लेंस है।
II. यदि छपे अक्षर अपने वास्तविक आकार से छोटे दिखाई पड़ते हैं, तो यह अवतल लेंस है।


30. अवतल लेंस द्वारा बने प्रतिबिंब को किरण आरेख द्वारा दर्शाइए ?

उत्तर ⇒ किरण आरेख सारांश में देखिए।


31. उत्तल लेंस के सामने वस्तु कहाँ रखा जाए कि उसका काल्पनिक और बड़ा प्रतिबिंब प्राप्त हो। इसे किरण आरेख द्वारा दर्शाइए ?

उत्तर ⇒ वस्तु को लेंस तथा .फोकस के बीच रखा जाएगा। किरण आरेख के लिए सारांश देखें।


32. एक उत्तल लेंस की फोकस दूरी 25 cm है। लेंस की क्षमता (शक्ति) ज्ञात कीजिए ?

उत्तर ⇒

अतः लेंस की क्षमता = 4 डाइऑप्टर


33. हमारे दैनिक जीवन में प्रकाश के अपवर्तन के तीन उदाहरण दीजिए ?

उत्तर ⇒ हमारे दैनिक जीवन में प्रकाश के अपवर्तन के तीन उदाहरण निम्नलिखित हैं-
I. जल में आंशिक तिरछी डूबी हुई छड़ी सतह पर मुड़ी हुई नजर आती है।
II. पानी से भरी बाल्टी की गहराई वास्तविक गहराई से कम प्रतीत होती है।
III. मरूभूमि में मरीचिका (एक धोखे की वस्तु या प्रकाशीय भ्रम) का नज़र आना।


34. उत्तल लेंस को अभिसारी लेंस क्यों कहा जाता है ?

उत्तर ⇒ मुख्य-अक्ष के समांतर एवं निकट आपतित किरणों को अपवर्तन के बाद उत्तल लेंस मुख्य-अक्ष के एक बिन्दु पर अभिसरित (एकत्रित) करता है। यही कारण है कि उत्तल लेंस को अभिसारी लेंस कहा जाता है।


35. अवतल लेंस को अपसारी लेंस क्यों कहा जाता है ?

उत्तर ⇒ मुख्य-अक्ष के समांतर एवं निकट आपतित किरणों को अपवर्तन के बाद अवतल लेंस मुख्य-अक्ष के एक बिंदु से अपसारित (फैलाती) करती है। यही कारण है कि अवतल लेंस को अपसारी लेंस कहते हैं।


प्रकाश का परावर्तन तथा अपवर्तन कक्षा 10 pdf

36. उस लेंस का नाम बताइए जो प्रकाश की किरण को
I. अभिसारित करता है। II. अपसरित करता है।

उत्तर ⇒ I. उत्तल लेंस ,II. अवतल लेंस।


37. लेंस के प्रकाशीय केन्द्र एवं फोकस दूरी को परिभाषित करें ?

उत्तर ⇒ प्रकाशीय केन्द्र : लेंस के अन्दर प्रधान अक्ष पर स्थित वह बिंदु जिससे होकर प्रकाश की किरण लेंस के प्रथम पृष्ठ से अपवर्तन के बाद दूसरे पृष्ठ से निर्गत हो जाती है, प्रकाशीय केन्द्र कहलाता है।

फोकस दूरी (फोकसांतर ): लेंस के प्रकाशीय केन्द्र और मुख्य फोकस के बीच की दूरी को फोकस दूरी कहते हैं।


38. एक लेंस की शक्ति +1.5 D है। फोकस दूरी ज्ञात कीजिए ?

उत्तर ⇒ लेंस की शक्ति (P) = +1.5D, फोकस दूरी (ƒ) = ?


39. पानी में रखा सिक्का उठा हुआ दिखता है, क्यों ?

पानी में रखा सिक्का उठा हुआ दिखता है, क्यों ?

उत्तर ⇒ दिए गए किरण आरेख में ग्लास के पेंदे में रखे सिक्का की स्थिति P से किरणें PA एवं PB पानी की सतह पर आँखों से देखने के दौरान आपतित होती है। सघन माध्यम (पानी) से विरल माध्यम (हवा) में जाने पर किरणें AC एवं BD अपवर्तित होती हैं। अपवर्तित किरणों का मिलन बिंदु P’ होती है। इस प्रकार पानी में रखा सिक्का सतह से ऊपर उठा दिखता है।


40. पार्श्विक विस्थापन से आप क्या समझते हैं ?

उत्तर ⇒ काँच स्लैब से निकलने वाली निर्गत किरण तथा आपतित किरण के मूल पथ के बीच लाम्बिक दूरी को पार्श्विक विस्थापन कहते हैं।


Class 10th Science (Physics) Subjective Question 2023 ( लघु उत्तरीय प्रश्न ) 

S.N  SCIENCE ( विज्ञान ) SUBJECTIVE
भौतिक विज्ञान ( PHYSICS ) लघु उत्तरीय प्रश्न
1. प्रकाश के परावर्तन तथा अपवर्तन
2. मानव नेत्र तथा रंगबिरंगा संसार
3. विधुत धारा
4. विधुत धारा के चुंबकीय प्रभाव
5.  ऊर्जा के स्रोत

Class 10th Science (Physics) Subjective Question 2023 ( दीर्घ उत्तरीय प्रश्न ) 

S.N Class 10th Physics (भौतिक दीर्घ उत्तरीय प्रश्न
1. प्रकाश के परावर्तन तथा अपवर्तन
2. मानव नेत्र तथा रंगबिरंगा संसार
3. विधुत धारा
4. विधुत धारा के चुंबकीय प्रभाव
5. ऊर्जा के स्रोत

Leave a Reply

Your email address will not be published.