Bihar Board Class 10th Vidyut Dhara Subjective Question Answer, विधुत धारा दीर्घ उत्तरीय प्रश्न उत्तर, विधुत धारा कक्षा 10 नोट्स pdf, विधुत धारा pdf, विधुत धारा कक्षा 10 pdf, विधुत धारा कक्षा 10 नोट्स, विधुत धारा pdf 12, विधुत धारा pdf notes, विधुत धारा कक्षा 10 ncert, विधुत धारा कक्षा 10 नोट्स bihar board, विधुत धारा के प्रश्न उत्तर PDF, विधुत धारा Class 10 PDF, विधुत धारा प्रश्न उत्तर PDF, भौतिकी विज्ञान विधुत धारा सब्जेक्टिव क्वेश्चन आंसर 2023, Vidyut Dhara Subjective Question Answer 2023, Prakash Ke Paraavartan Tatha Apvartan Question Answer Class 10th Science, विधुत धारा वर्ग हिंदी में 10 नोट पीडीएफ, विधुत धारा सब्जेक्टिव दीर्घ उत्तरीय प्रश्न उत्तर, विधुत धारा सब्जेक्टिव दीर्घ उत्तरीय प्रश्न उत्तर 2023, विधुत धारा के प्रश्न उत्तर pdf, विधुत धारा वर्ग हिंदी में 10 नोट पीडीएफ, Vidyut Dhara class 10th Subjective Dirgh Uttareey Question Answer, class 10th science Subjective question pdf,  Vidyut Dhara class 10th Dirgh Uttareey Prashn uttar pdf download, Vidyut Dhara class 12 Subjective pdf download, pragatishil classes
Class 10th Science Subjective Question

Class 10th विधुत धारा (दीर्घ उत्तरीय प्रश्न उत्तर) || Vidyut Dhara Subjective Dirgh Uttareey Question Answer 2022

दोस्तों यहां पर क्लास 10th साइंस का क्वेश्चन आंसर (Class 10th Science Objective & Subjective Question Answer) दिया गया है तथा यहां पर क्लास 10th साइंस का मॉडल पेपर (Class 10th Science Model Paper 2023) तथा ऑनलाइन टेस्ट (Class 10th Science Online Test) भी दिया गया है वैसे विद्यार्थी जो मैट्रिक परीक्षा 2023 की तैयारी कर रहे हैं तो इस पेज में आपको क्लास 10th साइंस का सब्जेक्टिव विधुत धारा का दीर्घ उत्तरीय प्रश्न उत्तर ( Vidyut Dhara Subjective Question Answer ) यहां पर दिया गया है तथा अगर आप लोग विधुत धारा का ऑब्जेक्टिव क्वेश्चन आंसर पढ़ना चाहते हैं तो लिंक पर क्लिक करके पढ़ सकते हैं

Join Telegram
Bihar Board All Subject Pdf Download Class Xth & 12th
Whats'App Group Click Here
Join Telegram Click Here
Bihar Board Daily Online Test Class Xth
Whats’App Group Click Here
Join Telegram Click Here
S.N Science (विज्ञान) 📒
1. Physics (भौतिक बिज्ञान) Guess Paper
2. Chemistry (रसायन शास्त्र) Guess Paper
3. Biology (जिव-विज्ञान) Guess Paper

विधुत धारा सब्जेक्टिव दीर्घ उत्तरीय प्रश्न उत्तर

विधुत धारा ( 5 अंक स्तरीय प्रश्न )

1. जब (i) 1Ω तथा 10⁶ Ω (ii) 1Ω , 10³ Ω तथा 10⁶ Ω के प्रतिरोध पार्श्वक्रम में संयोजित किए जाते हैं तो इनके तुल्य प्रतिरोध के संबंध में आप क्या निर्णय करेंगे ?

उत्तर ⇒ जब प्रतिरोधकों को पार्यक्रम में संयोजित किया जाता है तो उनका तुल्य प्रतिरोध व्यक्तिगत निम्नतम प्रतिरोध से भी कम
होता है।

जब (i) 1Ω तथा 10⁶ Ω (ii) 1Ω , 10³ Ω तथा 10⁶ Ω के प्रतिरोध पार्श्वक्रम में संयोजित किए जाते हैं तो इनके तुल्य प्रतिरोध के संबंध में आप क्या निर्णय करेंगे ?


2. 2Ω, 3Ω तथा 6Ω के तीन प्रतिरोधकों को किस प्रकार संयोजित करेंगे कि संयोजन का कुल प्रतिरोध हो-
(i). 4Ω (ii). 1Ω

उत्तर ⇒ (i) पहले 3Ω तथा 6Ω के प्रतिरोधकों को पार्श्वक्रम में जोड़ेंगे।

अब इस प्रकार प्राप्त 2Ω को 2Ω के प्रतिरोधकों से श्रेणीक्रम में जोड़ेंगे।
तब, समतुल्य प्रतिरोधक = 2Ω + 2Ω= 4Ω

(ii). तीनों प्रतिरोधकों को पार्यक्रम में जोड़ने पर :


3. 4Ω, 8Ω, 12Ω तथा 24Ω प्रतिरोध की चार कुंडलियों को किस प्रकार संयोजित करें कि संयोजन से
i. अधिकतम प्रतिरोध प्राप्त हो सके ? ii. निम्नतम प्रतिरोध प्राप्त हो सके ?

उत्तर ⇒ i. अधिकतम प्रतिरोध प्राप्त करने के लिए प्रतिरोधों की कुंडलीयों को श्रेणीक्रम में जोड़ते हैं।
RS = R1 + R2 + R3 + R4

RS = 4Ω + 8Ω + 12Ω + 24Ω = 48Ω

ii. निम्नतम प्रतिरोध प्राप्त करने के लिए प्रतिरोधों की कुंडलियों को पार्यक्रम में जोड़ते हैं।


4. 220 V की विधुत लाइन पर उपयोग किए जाने वाले बहुत से बल्बों का अनुमतांक 10W है। यदि 220V लाइन से अनुमत अधिकतम विधुतधारा 5A है, तो इस लाइन के दो तारों के बीच कितने बल्ब पार्श्वक्रम में संयोजित किए जा सकते हैं ?

उत्तर ⇒ V = 220 वोल्ट, P=10 वॉट

एक बल्ब का प्रतिरोध 
एक बल्ब द्वारा ली गई विधुत-धारा

सभी बल्बों का तुल्य प्रतिरोध
मान लीजिए कि बल्बों की संख्या n है और प्रतिरोधकता R प्राप्त करने के लिए


Bihar Board Class 10th Vidyut Dhara Subjective Question Answer

5. यह दर्शाइए कि आप 6Ω प्रतिरोध के तीन प्रतिरोधकों को किस प्रकार संयोजित करेंगे कि प्राप्त संयोजन का प्रतिरोध (i). 9Ω (ii). 4Ω हो।

उत्तर ⇒ (i) 6Ω के तीन प्रतिरोधकों से 9Ω का प्रतिरोध प्राप्त करने के लिए दो प्रतिरोधकों को पार्यक्रम में तथा एक को इनके श्रेणीक्रम में लगाया जाएगा।

(ii).6Ω के तीन प्रतिरोधकों से 4Ω प्राप्त करने के लिए पहले दो प्रतिरोधकों को श्रेणीक्रम में तथा तीसरे प्रतिरोधक को इनके साथ पार्श्वक्रम में जोड़ना होगा।


6. निम्नलिखित परिपथों में प्रत्येक में 2Ω प्रतिरोधक द्वारा उपभुक्त शक्तियों की तुलना कीजिए:
(i) 6V की बैटरी से संयोजित 12 तथा 22 श्रेणीक्रम संयोजन। (ii) 4V की बैटरी से संयोजित 120 तथा 202 पार्श्वक्रम संयोजन।

 


7. किसी ताँबें के तार का व्यास 0.5 mm तथा प्रतिरोधकता 1.6 x 10⁸Ωm है। 10Ω प्रतिरोध का प्रतिरोधक बनाने के लिए कितने लंबे तार की आवश्यकता होगी? यदि इससे दुगुना व्यास का तार लें तो प्रतिरोध में क्या अंतर आएगा ?

उत्तर ⇒ तार का व्यास, D = 0.5 mm = 0.5×10-3m

यदि इससे दुगुना व्यास की तार लें तो अनुप्रस्थ काट का क्षेत्रफल चार गुणा हो जाएगा। पर R ∝ 1/A

∴ प्रतिरोध ¼ गुना हो जाएगा।


8. एक विधुत लैम्प जिसका प्रतिरोध 20Ω है, तथा एक 4Ω प्रतिरोध का चालक 6V की बैटरी से चित्र में दिखाए अनुसार संयोजित हैं।

I. परिपथ का कुल प्रतिरोध
II. परिपथ में प्रवाहित विधुत धारा
III. विधुत लैम्प तथा चालक के सिरों के बीच विभवांतर परिकलित कीजिए ?

उत्तर ⇒ लैम्प का प्रतिरोध R₁ = 20Ω
श्रेणीक्रम में संयोजित चालक का प्रतिरोध R₂ = 4Ω बैटरी
के दो टर्मिनलों के बीच कुल विभवांतर V=6 volt

I. परिपथ का कुल प्रतिरोध, RS, = R₁, +R₂, = 20 + 4 = 24Ω
II. परिपथ में प्रवाहित कुल विधुत धारा

III. विधुत लैम्प के सिरों के बीच विभवांतर
V₁ = 20Ω x 0.25A = 5 volt
चालक के सिरों के बीच विभवांतर
V₂ = 4 x 0.25 A = 1 volt


Vidyut Dhara class 10th Subjective Dirgh Uttareey Question Answer

9. मान लीजिए की प्रतिरोधकों R₁, R₂, तथा R₃, के मान क्रमशः 5Ω, 10Ω, 30Ω हैं तथा इन्हें 12 V की बैटरी से संयोजित किया गया है।

I. प्रत्येक प्रतिरोधक से प्रवाहित विधुत धारा।
II. परिपथ में प्रवाहित कुल विधुत धारा
III. परिपथ का कुल प्रतिरोध परिकलित कीजिए ?

उत्तर ⇒ R, = 5Ω, R, = 10Ω, R, = 30Ω, V = 12 volt
प्रत्येक व्यक्तिगत प्रतिरोध के सिरों पर भी विभवांतर इतना ही होगा।


10. R₁, = 10Ω , R₂, = 40Ω , R₃, = 30Ω , R₄ = 20Ω , R₅, = 60Ω है तथा प्रतिरोधकों के इस विन्यास को 12V से संयोजित किया जाता है।

I. परिपथ में कुल प्रतिरोध
II. परिपथ में प्रवाहित कुल विधुत धारा परिकलित कीजिए।

उत्तर ⇒


11. किसी विधुत इस्तरी में अधिकतम तापन दर के लिए 840W की दर से ऊर्जा उपभुक्त होती है तथा 360 W की दर से उस समय उपभुक्त होती है जब तापन की दर निम्नतम है। यदि विधुत स्रोत की वोल्टता 220V है तो दोनों प्रकरणों में विधुत धारा तथा प्रतिरोध के मान परिकलित कीजिए।

उत्तर ⇒ जब तापन की दर अधिकतम है, तब


भौतिकी विज्ञान विधुत धारा सब्जेक्टिव क्वेश्चन आंसर 2023

12. किसी विधुत भट्टी की तप्त प्लेट दो प्रतिरोधक कुंडलियों A तथा B की बनी हैं। जिसमें प्रत्येक का प्रतिरोध 24Ω है तथा इन्हें पृथक-पृथक, श्रेणीक्रम में अथवा पार्श्वक्रम में संयोजित करके उपयोग किया जा सकता है। यदि यह भट्टी 220V विधुत स्रोत से संयोजित की जाती है तो तीनों प्रकरणों में प्रवाहित विधुत धाराएँ क्या हैं ?

उत्तर ⇒ तीनों प्रकरणों में प्रवाहित विधुत धाराएँ –

I. जब प्रतिरोधक कुंडलियाँ पृथक-पृथक संयोजित है


विधुत धारा कक्षा 10 नोट्स

13. किसमें अधिक विधुत ऊर्जा उपभुक्त होती है: 250 W का TV सेट जो एक घंटे तक चलाया जाता है अथवा 120 W का विधुत हीटर जो 10 मिनट के लिए चलाया जाता है ?

उत्तर ⇒ 250 W के TV सेट द्वारा 1 घंटे में खपत ऊर्जा,
ETV = P x t = 250W x 1h = 250Wh
120 W के विधुत हीटर द्वारा 10 मिनट में खपत ऊर्जा के 


अतः 250 W के TV सेट में अधिक विधुत ऊर्जा उपभुक्त होगी।


14. किसी चालक का प्रतिरोधक किन-किन बातों पर निर्भर करता है ? वर्णन कीजिए।
या
प्रतिरोध को प्रभावित करने वाले कारकों का वर्णन करें ?

उत्तर ⇒ किसी चालक का प्रतिरोध निम्नलिखित तीन बातों पर निर्भर करता है –
I. चालक की लंबाई : चालक की लंबाई जितनी अधिक होती है, उसका प्रतिरोध भी उतना ही अधिक होता है। अर्थात् चालक का प्रतिरोध चालक की लंबाई के अनुक्रमानुपाती होता है। R ∝ l

II. चालक की मोटाई (अनुप्रस्थ काट) : चालक की मोटाई जितनी अधिक होगी उसका प्रतिरोध उतना ही कम होगा। अर्थात् चालक का प्रतिरोध उसकी मोटाई के व्युत्क्रमानुपाती होता है। R ∝ 1/A

III. चालक की प्रकृति : भिन्न-भिन्न चालकों का प्रतिरोध भिन्न-भिन्न होता है जो कि उनके विशिष्ट प्रतिरोध (p) पर निर्भर करता है।

अतः सिकी चालक का प्रतिरोध R = ρ x = l/a


विधुत धारा कक्षा 10 नोट्स bihar board

15. श्रेणीक्रम में संयोजित प्रतिरोधकों के समतुल्य प्रतिरोधों के लिए व्यंजन प्राप्त करें।

उत्तर ⇒ मान लिया कि तीनों प्रतिरोधक जिनके प्रतिरोध क्रमशः R₁, R₂, एवं R₃, हैं श्रेणीक्रम में संयोजित हैं। साथ ही तीनों प्रतिरोधकों से धारा I प्रवाहित हो रही है और प्रतिरोधक AB, BC एवं CD के सिरों के बीच विभवांतर क्रमशः V₁, V₂ तथा V₃, है।

अतः ओम के नियम से,
V₁ = IR₁, V₂ = IR₂ तथा V₃ = IR₃
यदि बैटरी का विभवांतर V हो तो
V = V₁, + V₂, + V₃ ⇒ IRS, = IR₁, + IR₂, + IR₃
⇒ IRS, = I(R₁ + R₂ + R₃)
∴    RS = R₁ + R₂ + R₃

अर्थात् श्रेणीक्रम में जुड़े हुए प्रतिरोधकों का समतुल्य प्रतिरोध उन प्रतिरोधकों के अलग-अलग प्रतिरोधों के योग के बराबर होता है।


16. समान्तरक्रम या पार्श्वक्रम में संयोजित प्रतिरोधकों के समतुल्य प्रतिरोधों के लिए व्यंजन प्राप्त करें।

उत्तर ⇒ मान लिया कि A और B बिन्दुओं के बीच तीन प्रतिरोधक जिनके प्रतिरोध क्रमश: R₁, R₂, एवं R₃ है समांतर क्रम में जुड़े हैं। साथ ही A और B बिंदुओं के बीच का विभवांतर V है। चूंकि प्रत्येक प्रतिरोधक A और B के बीच जुड़ा है, अतः प्रत्येक के सिरों के बीच विभवांतर V ही होगा।

अतः पार्यक्रम में जुड़े हुए प्रतिरोधकों के समतुल्य प्रतिरोध का व्युत्क्रम उन प्रतिरोधकों के अलग-अलग प्रतिरोधों के व्युत्क्रमों के योग के बराबर होता है।


विधुत धारा दीर्घ उत्तरीय प्रश्न उत्तर

17. ओम के नियम को लिखकर सिद्ध करें ?

उत्तर ⇒ ओम का नियम : यदि किसी चालक के ताप में परिवर्तन न हो, तो उसमें प्रवाहित विधुत धारा उसके सिरों के बीच आरोपित विभवांतर के समानुपाती होती है।

अर्थात् I ∝ V या I = V/R
जहाँ R एक नियतांक है, जिसे चालक का प्रतिरोध कहते हैं।
ओम के नियम की जाँच करना या सिद्ध करना : इसकी जाँच वोल्टमीटर और ऐमीटर की सहायता से की जाती है। इसके लिए हम निम्नरूप से विधुत परिपथ को पूरा करते हैं।

आकृति में B बैट्री, K कुंजी, Rh परिवर्तनशील प्रतिरोध, A ऐमीटर, V वोल्टमीटर एवं र स्थिर प्रतिरोध से विधुत धारा प्रवाहित कर Rh के किसी खास मान के लिए I और V का मान नोट करते हैं। Rh के मान को बदल-बदलकर प्रयोग को दोहराते हुए I और V का मान नोट कर लेते हैं। अब Vऔर I के बीच एक आलेख खींचते हैं। यह आलेख एक सीधी रेखा प्राप्त होती है। इससे यह निष्कर्ष निकलता है कि
I∝v है। अतः ओम का नियम सिद्ध हो जाता है।


18. विधुत बल्ब का सचित्र वर्णन करें ?

उत्तर ⇒ विधुत बल्ब में टंगस्टन के पतले तार की एक छोटी ऐंठी हुई कुंडली होती है जिसे तंतु या फिलामेंट कहते हैं। यह तंतु मोटे आधारी तारों द्वारा धातु के दो स्पर्शक बटनों से जुड़ा होता है।
तंतु एक काँच-बल्ब में बंद रहता है। बल्ब के अंदर निम्न दाब पर नाइट्रोजन और आर्गन जैसे निष्क्रिय गैसों का मिश्रण प्रायः भरा रहता है। विधुत धारा प्रवाहित होने पर तंतु गर्म होकर प्रकाश उत्पन्न करता है।


19. जूल का ऊष्मीय नियम क्या है ?

उत्तर ⇒ जूल का ऊष्मीय नियम : इस नियम के अनुसार चालक में उत्पन्न ऊष्मा (Q)
I. उस चालक से प्रवाहित होने वाली विधुत धारा (I) के वर्ग के सीधा समानुपाती होता है।
अर्थात् Q∝I² (जहाँ R एवं t अचर है )
II. चालक के प्रतिरोध (R) का सीधा समानुपाती होता है।
अर्थात् Q ∝ R (जहाँ I एवं । अचर है)
III. चालक से प्रवाहित होने वाली धारा में लगे समय (t) का सीधा समानुपाती होता है।
अर्थात् Q ∝ t (जहाँ I और R अचर है )


विधुत धारा प्रश्न उत्तर PDF

20. घरेलू विधुत परिपथ में से एक परिपथ का व्यवस्था आरेख खींचें ?

उत्तर ⇒


21. 8Ω  प्रतिरोध का कोई विधुत हीटर 2 घंटे तक 15 A विधुत धारा लेता है। हीटर में उत्पन्न ऊष्मा की दर ज्ञात कीजिए ?

उत्तर ⇒ दिया है – I =15 A, R = 8Ω , t = 2 घंटा


22. विधुत धारा का मान ज्ञात कीजिए ?

 

उत्तर ⇒ चार प्रतिरोधकों में दो ऊपर एवं दो नीचे वाले प्रतिरोधकों का संयोजन श्रेणीक्रम में है।
R₁ = ऊपरी प्रतिरोधकों का श्रेणीक्रम संयोजन = 2Ω
R₂ = दो नीचे वाले प्रतिरोधकों का श्रेणीक्रम संयोजन = 2Ω
अब, दो ऊपरी एवं दो नीचे वाले प्रतिरोधकों का समांतर क्रम में


Class 10th Science (Physics) Subjective Question 2023 ( दीर्घ उत्तरीय प्रश्न ) 

S.N  SCIENCE ( विज्ञान ) SUBJECTIVE
S.N Class 10th Physics (भौतिक दीर्घ उत्तरीय प्रश्न
1. प्रकाश के परावर्तन तथा अपवर्तन
2. मानव नेत्र तथा रंगबिरंगा संसार
3. विधुत धारा
4. विधुत धारा के चुंबकीय प्रभाव
5. ऊर्जा के स्रोत

Class 10th Science (Physics) Subjective Question 2023 ( लघु उत्तरीय प्रश्न ) 

भौतिक विज्ञान ( PHYSICS ) लघु उत्तरीय प्रश्न
1. प्रकाश के परावर्तन तथा अपवर्तन
2. मानव नेत्र तथा रंगबिरंगा संसार
3. विधुत धारा
4. विधुत धारा के चुंबकीय प्रभाव
5.  ऊर्जा के स्रोत
Bihar Board Daily Online Test Class Xth
Whats’App Group Click Here
Join Telegram Click Here

Leave a Reply

Your email address will not be published.