हमारी नींद Subjective Question Answer 2023,हमारी नींद Subjective Question Answer,Class 10th Hindi Subjective Question Answer,हमारी नींद का सारांश, हमारी नींद ncert solutions,हमारी नींद सब्जेक्टिव प्रश्न उत्तर class 10,हमारी नींद प्रश्न उत्तर class 10 pdf,हमारी नींद Subjective question,हमारी नींद प्रश्न उत्तर,हमारी नींद ka question answer,हमारी नींद सब्जेक्टिव क्वेश्चन,कक्षा 10 वी हिंदी हमारी नींद सब्जेक्टिव प्रश्न उत्तर 2023,class 10th हमारी नींद ka Subjective question answer 2023,हमारी नींद ka Subjective question answer class 10 2023,कक्षा 10 हमारी नींद का सब्जेक्टिव क्वेश्चन आंसर 2023,Hamari Nind Subjective question answer 2023,Hamari Nind prshn uttr 2023,Hamari Nind  subjective question,Hamari Nind ka subjective question answer 2023
Class 10th Hindi Subjective Question

कक्षा 10 हिंदी (गोधूलि भाग 2 काव्य खण्ड) पाठ -9 हमारी नींद Subjective Question 2023 || Hamari Nind Subjective Question Answer 2023

अगर आप कक्षा 10 के छात्र हैं और मैट्रिक परीक्षा 2023 की तैयारी कर रहे हैं तो यहां पर आपको कक्षा 10 हिंदी काव्य खंड का हमारी नींद का सब्जेक्टिव क्वेश्चन नीचे दिया गया है। जो कि आपके मैट्रिक परीक्षा 2023 के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है। इसलिए शुरू से अंत तक जरूर पढ़ें। और आपको इस वेबसाइट पर हमारी नींद Objective Question भी पढने के लिए मिल जायेगा।

Join Telegram

हमारी नींद Subjective Question Answer 2023

1. कविता के प्रथम अनुच्छेद में कवि एक बिम्ब की रचना करता है। उसे स्पष्ट कीजिए ।

उत्तर ⇒ कविता के प्रथम अनुच्छेद में कवि बीज के माध्यम से बिंब की रचना करता है। व्यक्ति जब गहरी नींद में सोया हुआ रहता है तो उस बीच में ही पौधे कुछ इंच बढ़ जाते हैं। बीज धरती में फटकर अंकुर के रूप में आ जाता है और उससे निकलने वाले कोमल धागे कोपल से बाहर आ जाते हैं। कहने का अर्थ है कि हमारे सोते रहने पर भी प्रकृति अपना चक्र नहीं रोकती है। हमारी अचेतन अवस्था में इस संसार में बहुत कुछ परिवर्तित हो जाता है।

2. मक्खी के जीवन-क्रम का कवि द्वारा उल्लेख किए जाने का त क्या आशय है ?

उत्तर ⇒ मक्खी के जीवन-क्रम का उल्लेख करने का आशय यह है कि जिस तरह मक्खी का जीवन तुच्छ है, उसी तरह गरीबी में जन्म लेने वाले शिशुओं के प्राणों का कोई मूल्य नहीं है। गरीबी में जन्म लेने वाले साधनों की कमी के कारण शिश अवस्था में मर जाते हैं या फिर किसी दंगे में उन्हें बाल्यावस्था में मार दिया जाता है। जो बच जाते हैं वे संघर्ष करते-करते मृत्यु को प्राप्त कर लेते हैं। कहने का अर्थ है कि भूखे, नंगे लोगों को मृत्यु के अलावा कुछ नहीं मिलता है। समाज में उनका मूल्य मक्खी से ज्यादा और कुछ नहीं है।

3. कवि गरीब बस्तियों का क्यों उल्लेख करता है ?

उत्तर ⇒ कवि कहना चाहता है कि गरीब भाग्यवादी होता है। वह मानता है कि गरीब-अमीर तो भगवान की कृपा से बने हैं। फिर भी उसे ईश्वर से कोई शिकायत नहीं है। जो साधनहीन
हैं वे भी लाउडस्पीकर पर देवी जागरण कर रहे हैं। उनका विश्वास ईश्वर पर बना हुआ है। कवि चाहता है कि साधनहीन लोग देवी जागरण करने की जगह पर अत्याचारियों का विरोध करे। विरोध करने की जगह देवी जागरण किये जाने के कारण ही कवि गरीब बस्तियों का उल्लेख करता है।

Hamari Nind ka subjective question answer 2023

4. कवि किन अत्याचारियों का और क्यों जिक्र करता है ?

उत्तर ⇒ कवि उन अत्याचारियों का जिक्र करता है जिन्होंने सुख-सुविधा के सभी साधन जुटा लिए हैं। उनके पास आवश्यकता से भी अधिक है फिर भी शोषण और अत्याचार करना नहीं छोड़ते हैं। कवि इनका जिक्र इसलिए करता है क्योंकि देश की गरीब जनता उत्पादन में भाग लेती है और ये सिर्फ अपनी आराम और सुविधाओं के बारे में ही सोचते हैं। उत्पादन और मेहनत करने वाली गरीब जनता का ये शोषण फिर भी करते हैं।

5. इनकार करना न भूलने वाले कौन हैं? कवि का भाव स्पष्ट कीजिए ।

उत्तर ⇒ इनकार करना न भूलने वाले समाज का ‘शोषक वर्ग’ है। ये वर्ग सदैव शोषण की प्रवृत्ति को बनाए रखना चाहता है। कवि कहना चाहता है कि शोषक वर्ग केवल अपनी सुविधाओं पर ही ध्यान देता है। उसकी आराम में किसी तरह की असुविधा नहीं होनी चाहिये। अपनी सुविधा के कारण ही यह शोषण करते हैं। शोषण और अत्याचार को समाप्त करके देश – और गरीब जनता के सहयोग करने से ये सदैव इंकार करते है ?

6. कविता के शीर्षक की सार्थकता पर विचार कीजिए।

उत्तर ⇒ प्रस्तुत कवित में ऐसे लोगों का चित्रण है जो केवल अपने जीवन में ही लिप्त रहते हैं और समाज से उनका कोई सरोकार नहीं होता है। समाज में शोषण, अत्याचार, हत्या, दंगा जैसी अमानवीय घटनाएँ घटती हैं। परंतु एक वर्ग ऐसा भी है जो केवल अपने विषय में ही सोचता है। ऐसे लोगों को कवि ने ‘सोए हुए लोग’ कहा है। इन सोए हुए लोगों अर्थात् अचेतन लोगों को ही कवि ने कविता के केंद्र में रखा है। इस आधार पर कविता का शीर्षक ‘हमारी नींद’ अत्यंत उपयुक्त और सार्थक है ।

7. व्याख्या करें ।

उत्तर ⇒ (क) (ख) (ग) के लिए क्रमशः 3 और 4 व्याख्या को देखें ।

हमारी नींद Subjective Question Answer 2023

8. कविता में एक शब्द भी ऐसा नहीं जिसका अर्थ जानने की कोशिश करनी पड़े। यह कविता की भाषा की शक्ति है या सीमा? स्पष्ट कीजिए ।

उत्तर ⇒ वीरेन डंगवाल समसामयिक कवि हैं। वे कविता में ऐसी भाषा का प्रयोग करते हैं जो आम-जनमानस आसानी से समझ सके। प्रस्तुत कविता ‘हमारी नींद’ में भी साधारण बोलचाल की भाषा का प्रयोग हुआ है। भाषा साधारण होते हुए भी सारगर्भित, विलक्षण, अलंकारिक तथा अर्थ गांभीर्य उत्पन्न करने वाली है। अतः हम कह सकते हैं कि यह कविता की भाषा की शक्ति है।

Class 10th Hindi Subjective Question 2023

Hindi Subjective Question
S.N गोधूलि भाग 2 ( गद्यखंड )
1. श्रम विभाजन और जाति प्रथा
2. विष के दाँत
3. भारत से हम क्या सीखें
4. नाखून क्यों बढ़ते हैं
5. नागरी लिपि
6. बहादुर
7. परंपरा का मूल्यांकन
8. जित-जित मैं निरखत हूँ
9. आवियों
10. मछली
11. नौबतखाने में इबादत
12. शिक्षा और संस्कृति
Hindi Subjective Question
S.N गोधूलि भाग 2 ( काव्यखंड )
1. राम बिनु बिरथे जगि जनमा
2. प्रेम-अयनि श्री राधिका
3. अति सूधो सनेह को मारग है
4. स्वदेशी
5. भारतमाता
6. जनतंत्र का जन्म
7. हिरोशिमा
8. एक वृक्ष की हत्या
9. हमारी नींद
10. अक्षर-ज्ञान
11. लौटकर आऊंगा फिर
12.  मेरे बिना तुम प्रभु

Leave a Reply

Your email address will not be published.