Bihar Polytechnic Physics Question

Bihar Polytechnic Important Question BCECE & DCECE Entrance Exam 2022 || DCECE Entrance Exam 2022 विद्युत चुम्बकिय प्रेरण और अर्धचालक डायोड Physics VVI Question Electromagnetic Induction and Semiconductor Diodes

DCECE Entrance Exam 2022 विद्युत चुम्बकिय प्रेरण और अर्धचालक डायोड Physics VVI Question Electromagnetic Induction and Semiconductor Diodes

1. जब एक कुंडली के पास चुंबक के उत्तरी ध्रुव को लाते हैं तब –

(a) कुंडली में प्रत्यावर्ती वि. वा. ब. प्रेरित होगा
(b) कुंडली में दिष्ट वि. वा. ब. प्रेरित होगा
(c) कुंडली में दिष्ट या प्रत्यावर्ती किसी प्रकार का वि. वा. ब. प्रेरित नहीं होगा
(d) इनमें से कोई नहीं

Join Telegram

(b) कुंडली में दिष्ट वि. वा. ब. प्रेरित होगा

2. प्रेरित धारा की दिशा प्राप्त होती है –

(a) बाम-हस्त नियम से
(b) दक्षिण-हस्त नियम से
(c) लेंज के नियम से
(d) ओम के नियम से

(b) दक्षिण-हस्त नियम से

3. विद्युत चुंबकीय प्रेरण की घटना में –

(a) किसी वस्तु को धन आवेश से आवेशित किया जाता है
(b) एक विद्युत मोटर की कुंडली का घूर्णन होता है
(c) धारावाही परिनालिका द्वारा चुंबकीय क्षेत्र की उत्पत्ति होती है
(d) चुंबक और कुंडली के बीच आपेक्षिक गति के कारण विद्युत धारा न का उत्पादन होता है

(d) चुंबक और कुंडली के बीच आपेक्षिक गति के कारण विद्युत धारा न का उत्पादन होता है

4. डायनेमो का सिद्धांत आधारित है –

(a) धारा के ऊष्मीय प्रभाव पर
(b) प्रेरित विधुत पर
(c) विद्युत-चुंबकीय प्रेरण पर
(d) उपकरण के आर्मेचर में इलेक्ट्रॉनों की गति पर

(c) विद्युत-चुंबकीय प्रेरण पर

5. डायनेमो के लिए निम्नलिखित में से कौन-सा कथन सत्य है ?

(a) यह विद्युत ऊर्जा को प्रकाश ऊर्जा में बदलता है
(b) यह गतिज ऊर्जा को ऊष्मा ऊर्जा में बदलता है
(c) यह विद्युत ऊर्जा को यांत्रिक ऊर्जा में बदलता है
(d) यह यांत्रिक ऊर्जा को विद्युत ऊर्जा में बदलता है

(d) यह यांत्रिक ऊर्जा को विद्युत ऊर्जा में बदलता है

6. निम्नलिखित में कौन अर्द्धचालक है ?

(a) पारा
(b) लोहा
(c) आबनूस
(d) जरमेनियम

(d) जरमेनियम

7. एक p-n संधि में होते हैं –

(a) दो अर्द्धचालक संधि
(b) दो धातु संधि
(c) धातु-अर्द्धचालक
(d) इनमें से कोई नहीं

(a) दो अर्द्धचालक संधि

8.अर्द्धचालक पदार्थों की विशिष्ट चालकता –

(a) चालक पदार्थों की विशिष्ट चालकता से कम होती है
(b) अचालक पदार्थों की विशिष्ट चालकता से अधिक होती है
(c) चालक और अचालक पदार्थों की विशिष्ट चालकताओं के बीच में होती है
(d) शून्य होती है।

(c) चालक और अचालक पदार्थों की विशिष्ट चालकताओं के बीच में होती है

9. अर्द्धचालक पदार्थों की विद्युत चालकता कारण है –

(a) केवल इलेक्ट्रॉन
(b) केवल छिद्र .
(c) इलेक्ट्रॉन और छिद्र दोनों
(d) इनमें से कोई नहीं

(c) इलेक्ट्रॉन और छिद्र दोनों

10. p और n अर्द्धचालकों के लिए निम्नलिखित में कौन सत्य है ?

(a) p-अर्द्धचालक में इलेक्ट्रॉनों का बाहुल्य होता है
(b) n-अर्द्धचालक में छिद्रों का बाहुल्य होता है
(c) p-अर्द्धचालक में छिद्रों का तथा n-अर्द्धचालक में इलेक्ट्रॉनों का बाहुल्य होता है
(d) pअर्द्धचालक में छिद्रों का तथा n-अर्द्धचालक में इलेक्ट्रॉनों की कमी होता है

(c) p-अर्द्धचालक में छिद्रों का तथा n-अर्द्धचालक में इलेक्ट्रॉनों का बाहुल्य होता है

11. अर्द्धचालक (p-n) डायोड का उपयोग होता है –

(a) प्रत्यावर्ती धारा उत्पन्न करने के लिए
(b) दिष्ट धारा उत्पन्न करने के लिए
(c) दिष्टकारी के रूप में मिले
(d) विद्युत मोटर को चलाने में

(c) दिष्टकारी के रूप में मिले

12. विद्युत-चुंबकीय प्रेरण सिद्धांत के प्रतिपादक थे-

(a) न्यूटन
(b) ओम का
(c) जूल
(d) फैराडे की ओर

(d) फैराडे की ओर

Bihar Polytechnic Important Question BCECE & DCECE Entrance Exam 2022

13. चुम्बकीय फ्लक्स का S. I. मात्रक होता है –

(a) वेबर
(b) टेसला
(c) न्यूटन प्रति मीटर2
(d) फैराडे

(a) वेबर

14. चुम्बकीय बल क्षेत्र का S. I. मात्रक है –

(a) वेबर/मीटर2
(b) न्यूटन/मीटर2
(c) एम्पियर/मीटर2
(d) इनमें से कोई नहीं

(a) वेबर/मीटर

15. यदि किसी चुम्बक के दक्षिणी ध्रुव को नीचे रखकर कुंडली के अक्ष के अनुदिश गिराया जाए तो चुम्बक का त्वरण गुरुत्वीय त्वरण से –

(a) अधिक होगा
(b) कम होगा
(c) बराबर होगा
(d) इनमें से कोई नहीं

(b) कम होगा

16. यदि किसी चुम्बक के उत्तरी प्रव को नीचे रखकर कुंडली के अब के अनुदिश गिराया जाए तो लेंज के नियमानुसार कुंडली के सिर पर उत्पन्न हो जाता है –

(a) उत्तरी ध्रुव
(b) दक्षिणी ध्रुव
(c) कोई ध्रुव नहीं
(d) इनमें से कोई नहीं

(a) उत्तरी ध्रुव

17. बंद परिपथ की कुंडली में प्रेरित धारा की दिशा दी जाती है –

(a) फ्लेमिंग का वाम-हस्त नियम से
(b) फ्लेमिंग का दक्षिण-हस्त नियम से
(c) ओम के नियम से
(d) किरचॉफ के नियम से

(b) फ्लेमिंग का दक्षिण-हस्त नियम से

18. ताप के बढ़ने से अर्द्धचालक का प्रतिरोध –

(a) घटता है
(b) बढ़ता है
(c) समान रहता है
(d) पहले घटता है फिर बढ़ता है

(a) घटता है

19. निरपेक्ष शून्य ताप पर जरमेनियम व्यवहार करता है –

(a) सुचालक की तरह
(b) कुचालक की तरह
(c) अतिचालक की तरह
(d) सुचालक तथा कुचालक दोनों तरह का

(b) कुचालक की तरह

20. जब शुद्ध अर्द्धचालक सिलिकॉन में पंच-संयोजी तत्त्व जैसे फॉस्फोरस को अल्प मात्रा में मिलाते हैं तो इस पदाथ में विद्युत का चालन होता है –

(a) बहुसंख्यक इलेक्ट्रॉन तथा अल्पसंख्यक रिक्तिका द्वारा
(b) प्रोटॉन द्वारा
(c) बहुसंख्यक रिक्तिका तथा अल्पसंख्यक इलेक्ट्रॉन द्वारा
(d) इनमें किसी के द्वारा नहीं

(a) बहुसंख्यक इलेक्ट्रॉन तथा अल्पसंख्यक रिक्तिका द्वारा

21. n-अर्द्धचालक का उदाहरण है-

(a) शुद्ध जरमेनियम पीक
(b) शुद्ध सिलिकॉन
(c) जरमेनियम-फॉस्फोरस
(d) जरमेनियम इंडियम

(c) जरमेनियम-फॉस्फोरस

22. n-अर्द्धचालक होता है- नालायक –

(a) ऋणावेशित
(b) धनावेशित
(c) उदासीन
(d) ऋणावेशित या धनावेशित जो अशुद्धि की मात्रा के ऊपर निर्भर करता है

(c) उदासीन

23. P-अर्द्धचालक होता है –

(a) ऋणावेशित
(b) धनावेशित
(c) उदासीन
(d) इनमें से कोई नहीं

(c) उदासीन

24. n-अर्द्धचालक प्राप्त करने के लिए जरमेनियम में अल्प मात्रा में मिलाया जाता है –

(a) लोहा
(b) सोना
(c) एन्टीमनी
(d) एल्युमिनिय

(c) एन्टीमनी

25. n-अर्द्धचालक में बहुसंख्यक में होते हैं –

(a) इलेक्ट्रॉन
(b) रिक्तिकाएँ (होल)
(c) इलेक्ट्रॉन तथा रिक्तिकाएँ
(d) इनमें से कोई नहीं

(a) इलेक्ट्रॉन

26. अग्रअभिनति में p-n संधि का p-अर्द्धचालक n-अर्द्धचालक की अपेक्षा होता है –

(a) उच्च विभव पर
(b) निम्न विभव पर
(c) शून्य विभव पर
(d) इनमें से सभी संभव हैं

(a) उच्च विभव पर


बिहार पॉलिटेक्निक भौतिक विज्ञान

भौतिक विज्ञान ( PHYSICS )
         ➤      गति, बल और उर्जा 
मापन मात्रक एवं गति 
गति के नियम और घर्षण 
प्लवन (Floation)
बल अघूर्ण  ( Moment of Force )
गुरुत्वाकर्षण ( Gravitation )
सरल लोलक और प्रत्यानयन बल 
कार्य और उर्जा
पदार्थ का अनुगति सिद्धांत
         ➤     तरंग ( Wave )
तरंग गति ( Wave Motion )
तरंगो के परावर्तन और अपवर्तन
         ➤     ऊष्मा ( Heat )
उष्मा और गति ( Heat & Motion )
ताप ( Temperature )
उष्मीय प्रसार (Thermal Expansion )
विशिष्ट ऊष्मा ( Specific Heat )
अवस्था परिवर्तन और गुप्त ऊष्मा 
ऊष्मा इंजन ( Heat Engine )
ऊष्मा का संचरण 
         ➤     प्रकाश (Light )
गोलीय दर्पण में परावर्तन 
गोलीय लेंस से परावर्तन 
मानव नेत्र और दृष्टी-दोष 
श्वेत प्रकाश एवं वर्णपट्ट

प्रकाशीये यन्त्र ( Optical Instruments )
         ➤     विधुत और चुम्बकत्व
विधुत धारा और प्रतिरोध
सरल सेल तथा शुष्क सेल 
विधुत धाराओं का उष्मीय प्रसार 
विधुत धाराओं का चुम्बकीय प्रभाव
विधुत चुम्बकीय प्रेरण औ अर्धचालक डायोड
घरेलु और औधोगिक विधुत आपूर्ति एवं परिपथ 
         ➤     नाभिकीये उर्जा और ब्रह्माण्ड
नाभिकीये उर्जा ( Nuclear Energy )

ब्रह्माण्ड ( Universe )

Bihar Polytechnic 2022 :-  दोस्तों अगर आप लोग बिहार पॉलिटेक्निक 2022 की तैयारी कर रहे हैं और Bihar Polytechnic Entrance Exam 2022 में भाग लेना चाहते हैं। तो आपको यहां पर Bihar Polytechnic PHYSICS, CHEMISTRY & MATH का Objective Question, Bihar Polytechnic Practice Set आपको मिल जाएगा जो आपके बिहार पॉलिटेक्निक परीक्षा 2022 के लिए बहुत ही फायदेमंद होगा !

S.N  Bihar Polytechnic Question Answer 2022 
1. PHYSICS (भौतिक विज्ञान)
2. CHEMISTRY (रसायन विज्ञान)
3. MATH (गणित)

Leave a Reply

Your email address will not be published.